1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

लिऊ की पत्नी ग्रहण करेंगी नोबेल शांति पुरस्कार

इस साल के नोबेल शांति पुरस्कार के लिए चुने गए चीन के लिऊ शियाओबो की पत्नी इस सम्मान को ग्रहण करेंगी. जेल में बंद लिऊ को रिहाई की कोई उम्मीद न होने के कारण पत्नी से नार्वे जाने को कहना पड़ा है.

default

नोबेल विजेता लियू

चीन में कम्युनिस्ट शासन का विरोध कर लोकतांत्रिक अधिकारों की मांग करने के कारण लिऊ 11 साल के कारावास की सजा काट रहे हैं. नोबेल शांति पुरस्कार के लिए चुने जाने के बाद दुनिया भर के तमाम देशों ने चीन सरकार से लिऊ को सम्मान ग्रहण करने के लिए रिहा करने का अनुरोध किया है.

इसके बावजूद लिऊ ने मेडिकल पेरोल पर रिहाई की कोई उम्मीद न होने के कारण अपनी पत्नी लिऊ शिया से नार्वे जाकर सम्मान ग्रहण करने को कहा है. हॉंगकांग स्थित संगठन इंर्फोमेशन सेंटर फॉर ह्यूमन राइट्स एंड डेमोक्रेसी की ओर से मंगलवार को यह जानकारी दी गई.

इसमें कहा गया है कि लिऊ ने रविवार को जेल में पत्नी से मुलाकात के दौरान उनकी जगह सम्मान ग्रहण करने को कहा. इस बीच जेल में पति से मुलाकात से बाद अपने घर लौटते ही लिऊ शिया को भी पुलिस ने घर में नजरबंद कर दिया है. उनसे किसी को मिलने भी नहीं दिया जा रहा है. खासकर मीडिया को तो कतई नहीं.

इस साल दिसंबर में यह सम्मान ओस्लो में दिया जाएगा. हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है कि चीन सरकार लिऊ को रिहा नहीं करेगी. साथ ही लिऊ की पत्नी ने भी नार्वे जाने की पुष्टि नहीं की है.

रिपोर्टः पीटीआई/निर्मल

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links