1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

लव परेड में भगदड़ की जांच के आदेश

जर्मनी के राष्ट्रपति ने ड्यूसबर्ग में लव परेड की भगदड़ पर अफसोस जताते हुए हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं. जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल ने भी इस घटना पर गहरा दुख जताया है. लव परेड में भगदड़ से 18 लोगों की मौत हो गई.

default

मस्ती करने आए, मिली मौत

चांसलर अंगेला मैर्केल ने कहा कि वह इस घटना से गहरे दुख और सदमे में हैं. मैर्केल ने कहा, "इस मुश्किल घड़ी में मेरी चिंताएं पीड़ित लोगों के परिवार वालों के लिए हैं. मेरी सहानुभूति भी उनके साथ है."

उन्होंने कहा, "युवा लोग जश्न मनाने आए थे. लेकिन इसकी जगह उन्हें मौत देखनी पड़ी, घायलों को देखना पड़ा. इस हादसे से मैं बेहद दुखी हूं."

इस बीच जर्मनी के राष्ट्रपति क्रिस्टियान वुल्फ ने भी इस भगदड़ पर गहरा दुख जताया है. उन्होंने एक बयान जारी कर कहा, "कई देशों के युवा लोगों के इस शांतिप्रिय समारोह के दौरान ऐसी दुर्घटना हो गई, जिसमें लोगों की जान चली गई. यह एक बेहद दुखद घटना है." राष्ट्रपति ने हादसे की तुरंत और पूरी जांच के आदेश दे दिए हैं.

ड्यूसबर्ग में लव परेड के दौरान मची भगदड़ में कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई. पुलिस ने इस बात की पुष्टि कर दी है लेकिन मरने वालों के बारे में पता नहीं लग पाया है कि वे किन देशों के नागरिक हैं. इस परेड में हिस्सा लेने लगभग 14 लाख लोग आए थे, जिनमें से कई दूसरे देशों के थे.

जर्मनी में बर्लिन की दीवार गिरने से ठीक पहले बर्लिन में लव परेड की शुरुआत हुई थी. बाद में यह बेहद लोकप्रिय हो गई और इसमें हर साल लाखों लोग हिस्सा लेने लगे. 2006 के बाद से यह बर्लिन की जगह जर्मनी के दूसरे शहरों में होने लगी.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः वी कुमार

संबंधित सामग्री