1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

लदने वाले हैं बुर्ज खलीफा के दिन!

बुर्ज खलीफा से दुनिया की सबसे ऊंची इमारत होने का रुतबा छिनने वाला है. इसी शहर में अब इससे भी ऊंची इमारत बनने वाली है और इस पर काम भी शुरू हो गया है.

नई इमारत का नाम 'टावर' होगा, जिसे अरबी भाषा में अल-बुर्ज कहा जाएगा. दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मखदूम ने इसकी बुनियाद रख दी है. इस मौके पर जारी एक बयान में कहा गया है, "जब 2020 में ये ढांचा बन कर तैयार होगा, तो यह दुनिया का सबसे ऊंचा टावर होगा." दुबई की दिग्गज निर्माण कंपनी एमार प्रॉपर्टीज ने अप्रैल में इस टावर के निर्माण की योजना पेश की थी. उसने कहा कि ये इमारत बुर्ज खलीफा से "थोड़ी सी" ऊंची होगी. 828 मीटर ऊंची बुर्ज खलीफा अभी दुनिया की सबसे ऊंची इमारत है.

दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन रशीद अल मकतूम ने ट्वीट किया, “नया टावर इंसानी आर्किटेक्टर के इतिहास में नई चुनौती पेश करता है. और दुबई इस दौड़ का नेतृत्व करने का हकदार है.”

एमार ने नई इमारत की सटीक ऊंचाई के बारे में अभी कुछ नहीं कहा है. हां, इसकी लागत के बारे में जानकारी जरूर दी गई है. कंपनी ने अप्रैल में बताया कि टावर बनाने पर एक अरब डॉलर का खर्च आएगा. इसका डिजाइन स्पैनिश-स्विस आर्किटेक्ट सेंटियागो कालाट्रावा वाल्स ने बनाया है. इस टावर से दुबई के कोने कोने को देखा जा सकेगा.

एमार के चेयरमैन मोहम्मद अलाबार का कहना है ये टॉवर ट्रेड फेयर एक्सपो 2020 से पहले तैयार हो जाएगा, जिसकी मेजबानी दुबई करेगा. दुबई अपनी गगनचुंबी इमारतों के लिए दुनिया भर में मशहूर है जिन्होंने इस शहर को नई पहचान दी है. उधर सऊदी अरब भी जेद्दाह में एक टावर बना रहा है जो बुर्ज खलीफा से ऊंचा होगा. इसकी ऊंचाई एक किलोमीटर से भी ज्यादा होगी.

एके/एमजे (एएफपी)

DW.COM