1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

लंदन में सुरक्षित मैराथन का भरोसा

बोस्टन के धमाके के बाद हर कहीं आशंका है. खासकर खेल के बड़े आयोजन में भाग लेने वालों के मन में. लेकिन लंदन मैराथन के भागीदारों को लंदन ओलंपिक का सुरक्षित आयोजन आश्वस्त कर रहा है.

बोस्टन के तुरंत बाद यह सवाल पूछा जाने लगा था कि क्या दूसरे मैराथन का आयोजन संभव होगा? लेकिन धावकों में मन में लंदन मैराथन में भाग लेने के बारे में किसी भी तरह की चिंता को दूर करने के लिए पिछले साल लंदन ओलंपिक के सफल और सुरक्षित आयोजन की यादें हैं.

रविवार को होने वाली मैराथन दौड़ से पहले ही सारे चोटी के धावक लंदन पहुंच चुके हैं. उन्हें ब्रिटिश सरकार ने आश्वस्त किया है कि बोस्टन मैराथन के फिनिशिंग लाइन के करीब हुए दो धमाकों के बाद लंदन में सुरक्षा बंदोबस्त बढ़ाए जा रहे हैं. बोस्टन में हुए धमाकों में तीन लोग मारे गए थे और 170 के करीब घायल हो गए थे.

लंदन पहुंचने के बाद विश्व चैंपियन एदना किप्लागाट ने कहा, "यहां की सुरक्षा व्यवस्था मैं समझती हूं कि सर्वोत्तम है, जैसा कि हमने पिछले साल लंदन ओलंपिक में देखा." किप्लागाट ने कहा कि बोस्टन ने लंदन को तैयार रहने की जरूरत दिखाई है और उन्हें विश्वास है कि लंदन हर तरह से तैयार है. "मुझे उम्मीद है कि उन्होंने सख्त सुरक्षा व्यवस्था की है"

मैराथन दौड़ के आयोजक बोस्टन के हमले के बाद अधिकारियों के साथ नियमित बैठक कर रहे हैं. खेल मंत्री ह्यू रॉबर्टसन और लंदन के मेयर बोरिस जॉनसन फिर से सुरक्षा इंतजाम की जांच की है. 42.2 किलोमीटर की दौड़ के रास्ते पर हर जगह अतिरिक्त पुलिस दिखेगी.

ब्रिटेन की संस्कृति मंत्री मारिया मिलर ने संसद में कहा है, "हमें भरोसा है कि मैराथन और ओलंपिक से मिले अनुभवों के परिणामस्वरूप, हमारे पास सही लोग हैं जो इस आयोजन को सफल बनाना सुनिश्चित करेंगे." ब्रिटिश संस्कृति मंत्री मिलर ने कहा है कि इसके अलावा दौड़ शुरू होने से पहले सब लोग एक मिनट का मौन भी रखेंगे.

बोस्टन मैराथन पर हुए हमले के शिकारों की याद में लंदन मैराथन के भागीदार अपनी बांह पर काली पट्टी बांधकर दौड़ेंगे.

एमजे/एनआर (एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री