1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

लंदन में पाकिस्तानी नेता की हत्या

पाकिस्तान की मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (एमक्यूएम) पार्टी के नेता इमरान फारूक की लंदन में उनके घर के बाहर हत्या कर दी गई है. इमरान फारूक के सिर पर चोट के निशान हैं और चाकू के घाव भी पाए गए. किसी की गिरफ्तारी नहीं.

default

लंदन पुलिस ने बताया कि गुरुवार शाम 5.30 बजे के करीब उसे एजवेयर इलाके में किसी पर गंभीर हमला होने की सूचना मिली. "पुलिस ने देखा कि एशियाई मूल का एक व्यक्ति घायल है और उनके सिर पर चोट है और चाकू के निशान हैं. डॉक्टरों ने उन्हें बचाने की कोशिश की लेकिन एक घंटे बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया गया." पुलिस का कहना है कि 50 वर्षीय इमरान फारूक के परिजनों को सूचित कर दिया गया है.

पुलिस के मुताबिक हत्या के मामले में अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक पूर्व सांसद और मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट के संस्थापक सदस्यों में शामिल इमरान फारूक ने 1992 में लंदन में शरण ले ली थी. सुरक्षा बलों को उनकी तलाश थी और 1992 में ब्रिटेन आने के बाद से वह पाकिस्तान नहीं गए थे.

पिछले महीने एमक्यूएम सांसद रजा हैदर की कराची में हत्या के बाद बड़े पैमाने पर राजनीतिक और जातीय हिंसा हुई जिसमें 85 लोगों की मौत हुई. एमक्यूएम को पाकिस्तान के कराची शहर में एक बड़ी राजनीतिक ताकत के रूप में देखा जाता है. सिंध प्रांत में पाकिस्तान पीपल्स पार्टी के साथ एमक्यूएम गठबंधन सरकार में शामिल है. एमक्यूएम कराची शहर के उर्दूभाषी लोगों का प्रतिनिधित्व करने का दावा करती है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: आभा एम

DW.COM

WWW-Links