1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

रोमांचक मैच में भारत ने फ्रांस को 4-3 से हराया

जबरदस्त फॉर्म में चल रहे संदीप सिंह ने दो शानदार गोल कर भारत को फ्रांस पर 4-3 से जीत दर्ज कराने में मदद की. पेरिस में दोनों टीमों के बीच कांटे का हुआ मुकाबला. भारत बेल्जियम को तीन टेस्ट मैचों की सीरिज 2-0 से हरा चुका है.

default

ड्रैग फ्लिक से गोल करने के लिए मशहूर और भारतीय टीम की बड़ी ताकत बनकर उभर रहे संदीप सिंह ने 12वें और 65वें मिनट में दो पेनल्टी कॉर्नर के सहारे गोल किए. तुषार खांडेकर ने पांचवे और कप्तान राजपाल सिंह ने 69वें मिनट में गोल कर भारत की स्थिति मजबूत की. फ्रेड्रिक सोएज ने छठे, 51वें और 68वें मिनट में गोलों की तिकड़ी जमाकर फ्रांस को मैच में वापस लाने की कोशिश की लेकिन वो नाकाम साबित हुई. भारत और फ्रांस के बीच तीन टेस्ट मैच खेले जाने हैं.

पिछले हफ्ते बेल्जियम के खिलाफ तीन हॉकी टेस्ट मैच की सीरिज 2-0 से जीतने के बाद भारतीय टीम का आत्मविश्वास कुलांचे भर रहा है. फ्रांस के साथ मैच में भी भारतीय टीम ने आक्रामक शुरुआत की और टीम तीसरे मिनट में ही एक गोल की बढ़त लेती दिखाई दी. लेकिन धर्मवीर सिंह सर्किल में गेंद पर नियंत्रण नहीं रख पाए और गोल नहीं हो सका. दो ही मिनट बाद यह कमी तुषार खांडेकर ने राजपाल सिंह से मिले पास पर गोल कर पूरी कर दी.

फ्रांस ने जवाबी हमला किया और एक मिनट में ही गोल दागकर स्कोर बराबरी पर ला दिया. फ्रेड्रिक सोएज ने भारतीय टीम की रक्षापंक्ति में दरार डाली और गोलकीपर भरत छेत्री गोल नहीं बचा सके. पर इससे टीम के हौसले में कमी नहीं आई और उसने हमले जारी रखे. मंदीप, आमिर और धर्मवीर सही निशाना नहीं लगा पाए नहीं तो जीत का अंतर ज्यादा होता.

भारत ने 12वें मिनट में गोल कर एक बार फिर बढ़त ले ली. गोल इस बार संदीप सिंह ने पेनल्टी कॉर्नर पर किया. फ्रांस ने गोल उतारने की जोरदार कोशिश की लेकिन उसे पहले हाफ में सफलता नहीं मिल सकी और हाफ टाइम तक स्कोर 2-1 से भारत के पक्ष में रहा. दूसरे हाफ में मैच के 51वें मिनट में फ्रेड्रिक सोएज ने शानदार गोल दागा और स्कोर 2-2 से बराबर कर दिया.

मैच रोमांच के चरम पर था और परिणाम किसके पक्ष में जाएगा यह बताना मुश्किल हो रहा था. मैच समाप्ति से ठीक पांच मिनट पहले भारत ने संदीप सिंह के गोल के जरिए फिर बढ़त ले ली. लेकिन फ्रेड्रिक सोएज ने 68वें मिनट में गोल कर मैच फिर 3-3 से बराबर कर दिया. आखिर में जब मैच ड्रॉ होता दिख रहा था, भारत के कप्तान राजपाल सिंह ने मैच जिताऊ गोल दागकर फ्रांस के प्रशंसकों को निराश कर दिया, लेकिन भारतीय टीम का उत्साह बढ़ा रहे दर्शकों के चेहरे खिल उठे.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: उभ

संबंधित सामग्री