1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

रोबोट के कब्जे में मलेशिया

रोबोट के रूप में रजनीकांत को देखने के लिए मलेशिया के सिनेमाघरों की टिकट खिड़कियों पर सुबह से ही लंबी लाइन लग गई. हॉलीवुड की स्पाइडरमैन के बाद पहली बार कोई विदेशी फिल्म एक साथ 300 सिनेमाघरों में रिलीज हुई है.

default

दो साल के बाद पर्दे पर नजर आए रजनीकांत लोगों की भारी भीड़ खींच रहे हैं. दक्षिण भारत में तो वह भगवान के दूसरे रूप है ही विदेशों में भी उनकी फिल्म अच्छा कारोबार कर रही है. 60 साल के रजनीकांत के सामने हैं 36 साल की ऐश्वर्या इन दोनों को पर्दे पर रोमांस करते देखना भी कम दिलचस्प नहीं. वैसे ऐश्वर्या रजनीकांत को पहले ही 'पा' जैसा मान चुकी हैं. शंकर के निर्देशन में बनी फिल्म भारत की अब तक की सबसे महंगी फिल्म है. एक रोबोट की दीवानगी दिखाने के लिए शंकर ने 150 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च किया है.

Aishwarya Rai

मलेशिया के स्थानीय अखबारों के मुताबिक तीन मंदिरों के पुजारी सुबह पूजा करने के बाद ग्यारह बजे की शो में फिल्म देखने चले गए. इसी तरह कारोबारी डब्ल्यू मुरलीधरन अपने घर से दूसरे शहर के लोटस फाइव स्टार सिनेमाहॉल में रजनीकांत की रोबोट देखने आए हैं. दूसरे शहर में आने का जोखिम इसलिए उठाया क्योंकि उनके शहर में पहला शो 3 बजे से था और वो इतनी देर इंतजार नहीं कर सकते थे.

मलेशिया में तमिल लोगों की बड़ी संख्या में रहते हैं. यहां रहने वाले 8 फीसदी लोग भारतीय हैं और उनमें तमिलों की तादाद सबसे ज्यादा है. रजनीकांत और ऐश्वर्या जुलाई में यहां रोबोट का म्यूजिक लॉन्च करने आए थे. तब उन्हें देखने के लिए बड़ी भारी भीड़ उमड़ी था.

मलेशिया के अलावा सिंगापुर, ब्रिटेन, चीन और अमेरिका के सिनेमाघरों में भी लोगों को रोबोट की बड़ी धूम है. इसके अलावा जापान के लोग भी रोबोट देखने के लिए खासे उतावले हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links