1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

रूस पर दबाव बढ़ाएगा ईयू

पूर्वी यूक्रेन में जारी तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से टेलिफोन पर बात की है. यूरोपीय संघ ने रूस के खिलाफ आर्थिक प्रतिबंध नहीं लगाए हैं, लेकिन उसकी संभावना बढ़ती जा रही है.

यूरोपीय संघ ने रूस यूक्रेन विवाद में शामिल और लोगों के खिलाफ नए प्रतिबंध लगाए हैं. और कड़े प्रतिबंधों की घोषणा अगले हफ्ते होगी. पूर्वी यूक्रेन में ताजा उपद्रव के बाद यूरोपीय संघ के विदेश मंत्रियों ने मॉस्को पर लगाम कसनी शुरू कर दी है. उनका मानना है कि यूक्रेन को अस्थिर करने के लिए रूस उपद्रव को बढ़ावा दे रहा है.

यूरोपीय विदेश मंत्रियों की बैठक के बाद ईयू की विदेशनैतिक दूत कैथरीन ऐश्टन ने कहा, "यूक्रेन को अस्थिर करने की कोशिशें रुकनी चाहिए. हम यूक्रेन की संप्रभुता और एकता का समर्थन करते हैं. हम रूस से यही करने की मांग करते हैं." रूस और क्रीमिया के उन लोगों की सूची को और बढ़ा दिया गया है जो यूरोप का दौरा नहीं कर सकते या जिनके बैंक खातों को सील कर दिया गया है. इस समय इस सूची में 33 लोग हैं.

आर्थिक प्रतिबंध अगले हफ्ते

हालांकि विदेश मंत्रियों की बैठक शुरू होने से पहले ब्रिटिश विदेश मंत्री विलियम हेग ने साफ तौर पर आर्थिक प्रतिबंधों की मांग की थी, लेकिन बैठक में कड़े प्रतिबंधों पर फैसला नहीं हुआ. तकलीफ देने वाले प्रतिबंधों का तीसरा चरण फिलहाल बस्ते में बंद है. उसके पहले यूरोपीय संघ इस हफ्ते जेनेवा में होने वाली बैठक के नतीजे देखना चाहता है जिसमें रूस और यूक्रेन के अलावा यूरोपीय संघ और अमेरिका भाग लेंगे. विलियम हेग ने कहा, "यह रूस के लिए यह दिखाने का महत्वपूर्ण मौका होगा कि वह स्थिति को शांत करने के लिए तैयार है." नए प्रतिबंधों में रूसी सामान के आयात और हथियारों की बिक्री पर रोक शामिल हो सकती है.

फ्रांस के विदेश मंत्री लॉरां फाबिउस ने तो यहां तक कहा है कि राज्य व सरकार प्रमुख ईस्टर के बाद इस तरह का फैसला लेने के लिए तैयार हैं. फ्रेंच राष्ट्रपति फ्रांसोआ ओलांद और ओबामा ने एक टेलिफोन बातचीत में यह तय किया है. फाबिउस ने कहा, "यदि जरूरी होगा तो अगले हफ्ते प्रतिबंध तय करने के लिए राज्य व सरकार प्रमुखों की बैठक हो सकती है. हमारा लक्ष्य है कूटनीतिक समाधान को असंभव बनाए बिना रूस पर दबाव बढ़ाना है."

Luxemburg Treffen der Außenminister April 2014 Litauen Linkevicius

लिनास लिंकेविसिउस

प्रतिबंध के मुद्दे पर ईयू में एकता

यूरोपीय संघ ने कुछ कोशिशों के बाद एकता का परिचय दिया है, हालांकि कुछ मंत्री संतुष्ट नहीं थे. लिथुएनिया के विदेश मंत्री लिनास लिंकेविसिउस ने कहा कि "जब घर में आग लगी हो " तो छोटे कदमों पर नहीं रुकना चाहिए. ईयू की विदेशनीति प्रमुख कैथरीन ऐश्टन गुरुवार को जेनेवा में होने वाली बैठक में यूरोपीय संघ का प्रतिनिधित्व करेंगी. उन्होंने कहा, "हम संकट का समाधान करने और हालात स्थिर बनाने की अपनी कोशिशें जारी रखेंगे. जरूरी है कि रूस और यूक्रेन समाधान के लिए गंभीर संवाद शुरू करें."

इलाकों को ज्यादा स्वायत्तता देने पर राष्ट्रव्यापी जनमत संग्रह कराने का यूक्रेनी राष्ट्रपति अलेक्जांडर तुर्चिनोव के प्रस्ताव का यूरोपीय संघ ने स्वागत किया है. ईयू के विदेश मंत्रियों ने लक्जमबर्ग में हुई अपनी बैठक में कहा कि यदि यूक्रेन की जनता ऐसा फैसला लेती है तो वह स्वाभाविक रूप से अपनी भावी सरकारी संरचना भी तय कर सकती है. कैथरीन ऐश्टन ने पूर्वी यूक्रेन में विद्रोहियों के कब्जे वाले भवनों को खाली कराने में यूक्रेनी सुरक्षाबलों के संयम की सराहना की.

रूसी राजनीतिज्ञों ने यूक्रेन में गृहयुद्ध के खतरे की चेतावनी दी है, लेकिन यूरोपीय संघ के नेताओं का कहना है कि यदि रूस अस्थिरता की कोशिशों को जारी नहीं रखता है तो इसकी संभावना नहीं है. लिथुएनिया के विदेश मंत्री लिंकेविसिउस का कहना है कि क्रीमिया जैसी स्थिति पैदा हो रही है. क्रीमिया पर बिना राष्ट्रीय निशान वाले रूसी सैनिकों ने कब्जा कर लिया था. उसके बाद एक जनमत संग्रह करा कर उसे रूस ने मिला लिया.

रिपोर्ट: बैर्न्ड रीगर्ट/एमजे

संपादन: ओंकार सिंह जनौटी

संबंधित सामग्री