1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

राहुल का करीबी सहायक ग़ायब

बड़े ही रहस्यमय ढंग से राहुल गांधी के युवा ब्रिगेड के महत्वपूर्ण सदस्य निशांत पटेल के अचानक गायब हो जाने की खबर मिली है. वह उत्तर प्रदेश के हरदोई में एक होटल में ठहरे हुए थे.

default

कहां गए सहायक?

प्राप्त समाचारों के अनुसार सोमवार तड़के होटल की लॉबी में निशांत को आख़िरी बार देखा गया था. होटल के कमरे में उनका सामान अस्त-व्यस्त ढंग से बिखरा हुए था. यहां तक कि उनका मोबाईल फ़ोन भी वहां पड़ा हुआ था.

हरदोई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम ने सूचना दी है कि निशांत पटेल कोतवाली क्षेत्र के उत्सव होटल में ठहरे हुए थे. उनका सारा सामान होटल के कमरे में पड़ा हुआ है. रात को होटल के दूसरे मेहमानों के साथ भोजन करने के बाद वह सुबह तक सबके साथ बात करते रहे. सुबह उन्हें एक रिक्शे की तलाश में जाते देखा गया. इसके बाद उनके बारे में कोई सूचना नहीं मिली. पुलिस के मुताबिक अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है.

निशांत कांग्रेस के प्रवक्ता व गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री हसमुख भाई पटेल के बेटे हैं. राहुल गांधी ने उन्हें मिशन 2012 नामक अपने अभियान की ज़िम्मेदारी सौंपी थी. ग़ायब होने से पहले उनसे मिलने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि वह किसी वजह से परेशान नज़र आ रहे थे.

कांग्रेस के स्थानीय नेता वीर पाल सिंह का कहना है कि भारतीय राष्ट्रीय युवा कांग्रेस की ओर से लोकसभा के उम्मीदवार के रूप में उनका नाम प्रस्तावित किया गया था. सभी लोग उनके इंतज़ार में थे. संगठन के नेताओं को इस घटना की सूचना दे दी गई है व उनके लिए खोजबीन जारी है. पुलिस को भी सूचना दी गई है और वे स्थानीय स्तर पर तहकीकात कर रहे हैं.

होटल से अचानक गायब हो जाने के बाद गुजरात और यूपी के राजनीतिक हल्कों में खलबली मच गई है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: ओ सिंह