1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

राज्य सभा में सौ करोड़पति

भारतीय संसद में राज्यों का प्रतिनिधित्व करने वाले सदन राज्य सभा के सदस्यों में लगभग सौ करोड़पति हैं. सबसे धनी महाराष्ट्र के निर्दलीय सांसद और उद्योगपति राहुल बजाज हैं.

default

राज्य सभा में करोड़पति

सासंदों पर नज़र रखने वाले एक ग़ैरसरकारी संगठन के अनुसार उद्योगपति राहुल बजाज ने अपनी चल और अचल सम्पत्ति 300 करोड़ रुपए बताई है. सर्वाधिक धनी सांसद विभिन्न राज्यों में बंटे हैं. राहुल बजाज के बाद जनता दल(सेकुलर) के सांसद एमएएम रामास्वामी हैं जिनके पास 278 करोड़ की सम्पत्ति है जबकि तीसरे नम्बर पर आंध्र प्रदेश के कांग्रेस सांसद टी सुह्रमनी रेड्डी हैं जिनके पास 272 करोड़ रुपए की सम्पत्ति है. समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन के पास 215 करोड़ और समाजवादी पार्टी से निष्कासित अमर सिंह के पास 79 करोड़ की सम्पत्ति है.

राज्य सभा के दो सांसद ऐसे भी हैं जिनके पास कोई सम्पत्ति नहीं है. तमिल नाडु से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के सांसद डी राजा और पश्चिम बंगाल से मार्कसवादी कम्युनिस्ट पार्टी के सांसद सुमन पाठक ने अपनी सम्पत्ति 0 बताई है. मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की सांसद वृंदा करात ने पौने दो लाख रुपए की सम्पत्ति की घोषणा की है तो रिवोल्यूशनरी सोशियलिस्ट पार्टी के अबनी राय ने 72 हज़ार रुपए.

करोड़पति सांसदों की सूची में सबसे अधिक 33 कांग्रेस पार्टी के हैं, 21 भारतीय जनता पार्टी के हैं और 7 समाजवादी पार्टी के. जिन 219 सांसदों का विश्लेषण किया गया है उनमें 179 स्नातक, 18 बारहवीं पास और 11 हाईस्कूल पास हैं जबकि 2 ने सिर्फ़ 8वीं क्लास की पढ़ाई की है.

219 सदस्यों द्वारा राज्य सभा के चुनाव के समय दिए गए सम्पत्ति दस्तावेज़ों का विश्लेषण करने के बाद एसोशिएसन ऑफ़ डेमोक्रैटिक रिफॉर्म्स और नैशनल इलेक्शन वाच ने यह जानकारी दी है. इन संगठनों के अनुसार राज्य सभा के 98 सांसद करोड़पति हैं तो 37 सांसदों के ख़िलाफ़ आपराधिक मुकदमे लम्बित हैं. इस सूची में सबसे अधिक 7 कांग्रेस के सांसद हैं तो भाजपा 6 सांसदों के साथ दूसरे नम्बर पर है, जबकि शिव सेना और बहुजन समाज पार्टी के चार-चार सांसदों के ख़िलाफ़ आपराधिक मुकदमे चल रहे हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: एम गोपालकृष्णन