1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

राइडर और विलियम्सन ने संभाली पारी

अहमबादाबाद टेस्ट के तीसरे दिन राइडर और विलियम्सन के अर्द्धशतकों ने न्यूजीलैंड की पारी संभाल दी है. न्यूजीलैंड की टीम फॉलोआन से बचने के लिए जूझ रही है. ढाई सौ का आंकड़ा पार करने में चार विकेट खो चुके हैं किवी.

default

बाएं हाथ के किवी बल्लेबाज राइडर के जब सिर्फ ग्यारह रन बने थे तभी श्रीसंत की गेंद पर वाइड स्लीप में उठे कैच को छोड़ राहुल द्रविड़ ने उन्हें जीवनदान दे दिया. राइडर ने इस मौके का खूब फायदा उठाया और पहली बार टेस्ट खेलने उतरे नए बल्लेबाज विलियम्सन के साथ 100 रनों से ज्यादा की साझेदारी कर ली. दोनों अभी भी क्रीज पर जमे हुए हैं. फॉलोआन बचाने के लिए जरूरी 22 रन उम्मीद है कि दोनों मिलकर बना लेंगे.

इससे पहले ब्रैंडन मैक्कुलम ने 65 और टेलर ने 56 रन बनाए. इन दोनों के बीच हुई 104 रनों की साझेदारी को हरभजन की गेंद पर टेलर के बल्ले से उठे कैच को लक्ष्मण ने लपक कर तोड़ा. 122 गेंदों का सामना कर 65 रन बनाने वाले मैक्कुलम तो टीम इंडिया के सामने दीवार की तरह अड़ गए थे. मैक्कुलम ने 65 में से 44 रन तो केवल चौका मार कर बना लिए. हालांकि प्रज्ञान के बाएं हाथ से आई एक गेंद संभालने में उनके पैर डगमगा गए. गेंद उनके बल्ले बाहरी किनारा लेते हुए विकेट के पीछे खड़े कप्तान के हाथों में सीधे पहुंची. नतीजा मैक्कुलम नाम की दीवार ढह गई. 

भारत की तरफ से प्रज्ञान ओझा ने दो विकेट लिए जबकि हरभजन और जहीर खान को एक एक विकेट मिला. श्रीसंत पहली सफलता हासिल करने के लिए अभी भी जूझ रहे हैं. टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मेहमान टीम के सामने 487 रन का लक्ष्य रखा है. पहली  पारी में वीरेंद्र सहवाग और राहुल द्रविड़ ने शतक लगाए. हरभजन ने 69 रन बनाकर अब तक की अपनी सबसे लंबी पारी खेली.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links