1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

रहस्यों में उलझता पेट्रेयस केस

सीआईए प्रमुख डेविड पेट्रेयस के उलझते रहस्य के बीच अमेरिका ने अफगानिस्तान में तैनात अपने कमांडर पर भरोसा जताया है. इस बीच, राष्ट्रपति ओबामा को नई टीम चुननी है, जिसमें खुफिया और रक्षा विभाग को लेकर मामला संवेदनशील है.

अमेरिकी रक्षा मंत्री लियोन पनेटा ने अफगानिस्तान में तैनात जनरल जॉन एलन पर पूरा भरोसा जताते हुए कहा, "किसी को कूद कर किसी नतीजे पर आने की जरूरत नहीं है." पनेटा अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन के साथ ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर हैं.

जनरल एलन के खिलाफ अमेरिकी एजेंसी एफबीआई ने जांच शुरू की है. आरोप है कि उन्होंने जिल कैली नाम की महिला को अंतरंग ईमेल लिखे हैं. कैली वही महिला हैं, जिन्होंने शिकायत की थी कि उन्हें कुछ धमकी भरे मेल मिले हैं. जांच करने पर सीआईए के प्रमुख और इराक और अफगानिस्तान में अमेरिकी सेना के प्रमुख रह चुके डेविड पेट्रेयस लपेटे में आ गए और उन्हें इस्तीफा देना पड़ा.

अमेरिका की फौज 10 साल से भी ज्यादा से अफगानिस्तान में जमी है लेकिन उसे कोई खास कामयाबी नहीं मिली है. ऐसी स्थिति में वहां अपने शीर्ष कमांडर को समर्थन देने के अलावा अमेरिका के पास कोई दूसरा चारा भी नहीं. पनेटा का कहना है, "जनरल एलन आईसैफ में शानदार काम कर रहे हैं. उन्हें मेरा पूरा समर्थन हासिल है ताकि वह सेना को नेतृत्व करें और जंग जारी रखें."

U.S. General John Allen

जनरल जॉन एलन

विदेश मंत्री क्लिंटन और अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी जनरल एलन पर भरोसा जताया है. दूसरी बार राष्ट्रपति बनने के बाद ओबामा को अपनी नई टीम चुननी है क्योंकि विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने साफ कर दिया है कि अब वह इस पद पर नहीं रहना चाहती हैं. राष्ट्रपति को विदेशी मंत्री के अलावा सीआईए के नए प्रमुख की भी तलाश करनी है और अगर जनरल एलन पर किसी तरह की गाज गिरती है, तो उन्हें अफगानिस्तान में भी नया सिपहसलार चाहिए.

पिछले शुक्रवार को अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के प्रमुख डेविड पेट्रेयस ने अचानक इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया. इसके बाद खुल रही परतों में एक एक कर चार नाम सामने आ चुके हैं. दुनिया के सबसे बड़े जासूसी संगठन के प्रमुख के साथ जुड़े स्कैंडल की वजह से सबकी निगाहें इस ओर हैं और समझा जाता है कि कुछ और परतें खुल सकती हैं.

अब तक के किरदार

डेविड पेट्रेयसः अफगानिस्तान और इराक में तैनात रह चुके 60 साल के पेट्रेयस अपनी जीवनी लिख रही 40 साल की पॉला ब्राडवेल से दिल लगा बैठे और दोनों के बीच गैरवाजिब रिश्ते बन गए. लगभग 37 साल तक सेना में रहने के बाद पेट्रेयस ने 2011 में अमेरिकी सेना को अलविदा कहा, जिसके बाद उन्हें सीआईए का प्रमुख बना दिया गया. हालांकि कुछ मामलों में उनका राष्ट्रपति बराक ओबामा से मतभेद भी रह चुका था.

अपने कार्यकाल में पेट्रेयस को एक शानदार फौजी और क्षमता से बढ़ कर लक्ष्य प्राप्त करने वाला व्यक्ति माना गया. अमेरिका का मानना है कि उनकी सूझबूझ की वजह से ही उनकी सेना को अफगानिस्तान में थोड़ी बहुत सफलता मिली. वह कैंसर से लड़ कर जीत चुके हैं, 90 के दशक में एक बार एक सैनिक ने गलती से गोली चलाई थी, जिससे वह घायल हो गए थे और एक बार वह विमान से कूदते समय पैराशूट की गड़बड़ी से घायल हो चुके हैं. लेकिन हर बार वह विजेता बन कर सामने आए हैं. कई जगहों पर उन्हें राष्ट्रपति पद का अगला उम्मीदवार भी बताया गया है.

David Petraeus Paula Broadwell Ex CIA Chef General Kommandeur

डेविड पेट्रेयस के साथ पॉला ब्रॉ़डवेल

पॉला ब्राडवेलः अमेरिकी सेना से जुड़ी ब्राडवेल ने 2006 में पहली बार पेट्रेयस से मुलाकात की. बाद में उसने पेट्रेयस की जीवनी 'आल इनः द एजुकेशन ऑफ जनरल डेविड पेट्रेयस' लिखी. किताब इस साल जनवरी में रिलीज हो गई. आरोप है कि उन्होंने जनरल पेट्रेयस की पारिवारिक मित्र जिल कैली नाम की महिला को धमकी भरे ईमेल लिखे. एफबीआई ने जब इस मामले की जांच शुरू की, तो उन्हें पेट्रेयस और ब्रॉडवेल के रिश्तों के बारे में पता चला.

ब्राडवेल नॉर्थ कैरोलाइना में अपने डॉक्टर पति के साथ रहती हैं और उनके दो बच्चे हैं. स्कैंडल सामने आने के बाद से वह सामने नहीं आई हैं. पड़ोसियों का कहना है कि वह दोस्ताना रिश्ते रखने वाली महिला हैं. ब्रॉडवेल ने रॉबर्ट मूस नाम के वकील को ठीक किया है. मूस वही वकील हैं, जिन्होंने मोनिका लेविंस्की का केस लड़ा था. लेविंस्की का पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन के साथ अफेयर था.

जिल कैलीः टैंपा में रहने वाली 37 साल की कैली की पेट्रेयस से उस वक्त मुलाकात हुई, जब वह वहां तैनात थे. सोशलाइट कैली अपने डॉक्टर पति के साथ टैंपा में ही रहती है. उन्होंने धमकी भरे ईमेल के बारे में जब शिकायत की तो किसी को पता भी नहीं था कि इसकी परतें कितनी दूर तक खुलेंगी.

मेल की जांच करते हुए जनरल पेट्रेयस और जनरल एलन के नाम सामने आए. हालांकि इस बात से इनकार किया जा रहा है कि खुद कैली का जनरल पेट्रेयस से कोई गैरवाजिब रिश्ता रहा है.

जॉन एलनः अमेरिकी मैरीन कोर के कमांडर जनरल इस वक्त अफगानिस्तान में अमेरिकी और संयुक्त विदेशी सेना का नेतृत्व कर रहे हैं. उन्हें एक शानदार रणनीतिकार बताया जाता है. उन्हें एक पदोन्नति मिलने ही वाली थी कि मामला सामने आ गया.

आरोप है कि उन्होंने कैली को कई ईमेल लिखे. उन्हें जानने वाले सेना के कुछ लोगों का कहना है कि दोनों एक दूसरे से फ्लर्ट कर रहे थे, जबकि खुद एलन ने ऐसी किसी बात से इनकार किया है.

Paula Broadwell mit ihren Buch All In

पेट्रेयस पर लिखी किताब के साथ पॉला ब्रॉडवेल

हॉली पेट्रेयसः अमेरिकी जनरल की पुत्री हॉली ने 1970 के दशक में, आज से करीब 38 साल पहले डेविड पेट्रेयस से शादी की. उनकी शादी को सेना के कठोर अनुशासन की मिसाल बताया जाता था. अपने दो बच्चों को पालने के अलावा हॉली ने सेना के लिए भी समय निकाला.

ब्रॉडवेल की किताब में हॉली पेट्रेयस की खूब तारीफ की गई है. स्कैंडल सामने आने के बाद से उन्होंने कोई बयान नहीं दिया है लेकिन उन्हें जानने वालों का कहना है कि वह सदमे में हैं और पेट्रेयस से बेहद नाराज हैं.

नैटली खावमः ब्राडवेल की जुड़वां बहन और पेशे से वकील नताली ने एक बच्चे पर हक जताने के लिए पेट्रेयस और एलन की मदद ली थी. दोनों जनरलों ने नैटली के लिए पत्र लिखे और उनकी तारीफ की.

सितंबर में अदालत को लिखे खतों में पेट्रेयस और एलन ने कहा कि वे नैटली को अच्छी तरह जानते हैं और वे उनकी पारिवारिक मित्र हैं.

अर्धनग्न एफबीआई एजेंटः एफबीआई का एक एजेंट इस पूरे मामले को सबके सामने लाया. वह खुद को कैली का मित्र बताता है और कहता है कि कैली ने उसे ही सबसे पहले बताया कि कोई उसे धमकी भरे ईमेल भेज रहा है. कथित तौर पर ब्रॉडवेल ने कैली को धमकी दी थी कि वह पेट्रेयस से दूर रहे.

बाद में इस एजेंट को जांच से अलग कर दिया गया क्योंकि उसकी बिना शर्ट वाली एक तस्वीर कैली के मेलबॉक्स में मिली. समझा गया कि वह कैली का बेहद करीबी हो सकता है. अब इस एजेंट के खिलाफ भी एफबीआई के अंदर जांच चल रही है.

एजेए/एमजी (एएफपी, रॉयटर्स)

DW.COM

WWW-Links