1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

यौन शोषण के आरोपों के चलते ब्रिटेन के रक्षा मंत्री का इस्तीफा

ब्रिटेन के रक्षा मंत्री माइकल फैलन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने प्रधानमंत्री टेरीजा मे को लिखे त्यागपत्र में लिखा कि वह अपने आचरण को पद के अनुरूप नहीं मानते हैं.

माइकल फैलन ने खुद पर लगे यौन शोषण के आरोपों को स्वीकार करते हुए अपने त्यागपत्र में लिखा कि पिछले कुछ दिनों में सांसदों के खिलाफ कई तरह के आरोप सामने आए हैं. इनमें कुछ मेरे पहले के किए गए व्यवहार के बारे में भी हैं. इनमें से कई तो झूठे हैं, लेकिन मैं मानता हूं कि एक बार मैंने अपने पद की गरिमा के अनुरूप व्यवहार नहीं किया. मेरा व्यवहार उन मापदंडों से नीचे था, जो हमने हमारी सम्मानित फौजों और उनका नेतृत्व करने वाले के लिए निर्धारित किए हैं. इसलिए मैं अपने पद से इस्तीफ़ा दे रहा हूं.

पिछले कुछ दिनों से लगातार यौन शोषण के कई मामले सामने आ रहे हैं, जिनमें कई हॉलीवुड एक्टरों की आपबीती सामने आई थी. #metoo नाम से चले इस ट्रेंड में दुनिया भर की लड़कियों ने उनके साथ यौन शोषण के मामलों को लिखा था. इसी ट्रेंड में पत्रकार जूलिया हर्टले-ब्रुअर ने भी पोस्ट लिखा और उन्होंने रक्षा मंत्री फैलन पर आरोप लगाये. यह घटना 2002 की है. माइकल फैलन पर आरोप है कि एक डिनर के दौरान उन्होंने गलत तरीके से ब्रुअर के घुटने को छुआ था. इस्तीफे के बाद जूलिया ने ट्वीट भी किया, 'शायद इस्तीफा देने का कारण मेरे घुटने छूना था.'

"शायद ही कोई ऐसी लड़की हो, जिससे कभी छेड़छाड़ न हुई हो"

पिछले हफ्ते फैलन ने स्वीकार किया था कि उन्होंने 2002 में महिला पत्रकार जूलिया हर्टले-ब्रुअर के घुटने पर गलत इरादे से हाथ रखा था. तब उन्होंने इसके लिए माफी भी मांगी थी. हालांकि अब जब फैलने इस्तीफा दिया है तो ब्रुअर ने भी इस पर अचरज जताया है.

एसएस/एनआर(रॉयटर्स)

 

DW.COM

संबंधित सामग्री