1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

“योग ने दुनिया को भारत से जोड़ा”

आज दुनिया भर में योग दिवस मनाया जा रहा है. भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लखनऊ में योग समारोह का नेतृत्व किया. इस मौके पर पूरी दुनिया में योग समारोह हुए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर बुधवार को कहा कि योग ने दुनिया को भारत से जोड़ा है. उन्होंने लखनऊ में भारत के मुख्य समारोह में हिस्सा लिया जिसमें 51 हजार लोग शामिल हुए.

योग दिवस के मौके पर समारोहों का आयोजन पूरे भारत में हुआ. अहमदाबाद में योग गुरू रामदेव ने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के मकसद से सवा लाख लोगों के साथ योग किया. राजधानी दिल्ली में कई सड़कें ब्लॉक कर दी गयीं ताकि अलग-अलग जगहों पर लोग योग कर सकें. साथ ही कड़ी सुरक्षा का भी बंदोबस्त किया गया.

दिल्ली के 24 साल के अभि अग्रवाल ने इस मौके पर कहा कि जब हम सारे लोग एक साथ एक से आसन करते हैं तो बहुत ही खास महसूस करते हैं. ये ऊर्जा बहुत ही अलग होती है.

भारत के प्रधानमंत्री मोदी पूरी तरह से शाकाहारी हैं और हर रोज योग का अभ्यास करते हैं. उन्होंने लोगों से कहा कि बहुत से देश जो हमारी भाषा, रीति-रिवाज या संस्कृति को नहीं जानते हैं, वे योग के जरिये भारत से जुड़ रहे हैं. योग शरीर, मन और आत्मा को जोड़ता है. और यह दुनिया को जोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है.

मोदी लंबे वक्त तक काम करने और कम घंटों की नींद का श्रेय योगाभ्यास को देते आये हैं. 2014 में हिंदू राष्ट्रवादी सरकार के सत्ता में आने के बाद से मोदी ने योग को लोगों के बीच लाने के लिये काम शुरू कर दिया था. उनका एक मंत्रालय योग और अन्य पारंपरिक तरीकों को प्रोत्साहित करने के लिए काम कर रहा है और उन्होंने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए संयुक्त राष्ट्र को भी राजी किया.

बुधवार को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र के मुख्यालय में भी तीसरा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया. इसके अलावा चीन की दीवार, लंदन आई जैसी जगहों पर भी लोगों ने योग किया. जर्मनी में भी भारतीय दूतावास और कंसुलेटों के सहयोग से योग दिवस मनाया गया.

एसएस/एमजे (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री