1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

यूसुफ की वापसी पर अलग अलग राय

मोहम्मद यूसुफ की पाकिस्तान की टीम में वापसी हो गई है लेकिन वह इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में नहीं खेल पा रहे हैं. कप्तान सलमान बट पहले ही इस पर संशय जता चुके हैं. पर मुख्य चयनकर्ता यूसुफ को लेकर संतुष्ट हैं.

default

मोहम्मद यूसुफ

पाकिस्तान क्रिकेट के मुख्य चयनकर्ता और पूर्व सलामी बल्लेबाज मोहसिन खान ने यूसुफ की टीम में वापसी को बिलकुल सही कदम बताया है. हालांकि कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने इस कदम की जम कर आलोचना की है.

यूसुफ ने आखिरी बार फरवरी में कोई अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था. मोहसिन ने उनका बचाव करते हुए कहा, "वह एक शानदार खिलाड़ी हैं और उनके शामिल होने से टीम मजबूत होगी." उन्हें टीम में भले ही शामिल कर लिया गया हो लेकिन दूसरे टेस्ट के लिए उन्हें नहीं चुना जा सका क्योंकि वह बहुत देर से इंग्लैंड पहुंचे और विमान की थकान दूर नहीं कर पाए. यूसुफ 35 साल के हैं.

मोहसिन का मानना है कि यूसुफ के अनुभव से पाकिस्तान की नातजुर्बेकार क्रिकेट टीम को फायदा होगा. मोहसिन का कहना है कि यूसुफ इस दौर के सबसे बड़े बल्लेबाजों में से एक हैं.

पाकिस्तान के पूर्व सलामी बल्लेबाज आमिर सुहैल यूसुफ को टीम में शामिल करने के फैसले का विरोध कर चुके हैं. उनका कहना है कि इस तरह के फैसलों से पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की फजीहत होगी. मोहम्मद यूसुफ पर मार्च में अनिश्चितकाल के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने पर पाबंदी लग गई थी. इसके बाद उन्होंने क्रिकेट से संन्यास ले लिया. लेकिन फिर पाकिस्तान के लिए खेलने के लिए अपना संन्यास तोड़ दिया. उधर, बोर्ड ने भी खामोश तरीके से उनकी पाबंदी हटा दी.

हालांकि पाकिस्तान के नए कप्तान सलमान बट गुरुवार को ही कह चुके हैं कि यूसुफ दूसरे टेस्ट में नहीं खेल पाएंगे. शुक्रवार से बर्मिंघम में इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच दूसरा टेस्ट खेला जा रहा है. चार मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट में इंग्लैंड ने पाकिस्तान को शर्मनाक तरीके से 354 रन से हरा दिया था.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः वी कुमार

DW.COM