1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

यूरो मुद्रा बचाने के लिए शिखर बैठक

यूरोपीय संघ की ब्रसेल्स में हो रही शिखर भेंट में साझा मुद्रा यूरो को बचाने के फैसले लिए जाएंगे. यूरो की स्थिरता को बचाने के लिए एक साल पुराने लिसबन संधि को बदला जा रहा है.

default

वित्तीय संकट में पड़ने वाले देशों की मदद के लिए यूरोपीय संघ के देश संधि में संशोधन के साथ तैयार हो रहे हैं. 27 देशों के राज्य व सरकार प्रमुख एक स्थायी बचाव कोष तय करेंगे जिससे आयरलैंड जैसे मुश्किल में पड़े देशों की मदद की जाएगी.

शिखर बैठक से पहले जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल ने कहा है कि साझा यूरो बांड पर यूरो ग्रुप के प्रमुख और लक्समबर्ग के प्रधानमंत्री जां क्लोद युंकर के साथ विवाद सुलझ गया है. मैर्केल साझा बांड के खिलाफ हैं, जिससे कर्ज में डूबे देशों को कम ब्याज पर कर्ज मिल पाएगा जबकि जर्मनी जैसे सुदृढ़ वित्तीय ढांचे वाले देश को अधिक ब्याज देना होगा.

NO FLASH Symbolbild Euro Geldscheine Löhne Lohn

चांसलर मैर्केल ने कहा, "जां क्लोद युंकर और मैंने टेलीफोन पर लंबी बातचीत की और मामले को सुलझा लिया है. जहां इतना कुछ दाव पर लगा है वहां संवेदनाएं भी भूमिका निभाती हैं." युंकर ने मैर्केल के विरोध पर नाराजगी जताते हुए कहा था कि यह यूरोपीय कारोबार को पूरा करने का बड़ा गैर यूरोपीय तरीका है. मैर्केल ने अपना रुख दुहराते हुए यूरोपीय देशों से एकजुट रहने की अपील की है और कहा है कि यह दिखाएगा कि हममें से कोई यूरो पर सवाल नहीं उठा रहा है.

जां क्लोद युकंर ने भी शिखर बैठक से पहले जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल के साथ मतभेदों के अहसास को दूर करने का प्रयास किया है. उन्होंने कहा कि जब यूरो क्षेत्र की आधारभूत समस्याओं के लिए नया ढांचा बनाने की बात है तो यूरो क्षेत्र के सदस्यों के बीच कोई मतभेद नहीं है.

उधर लगातार बने दबाव के बावजूद शिखर भेंट से पहले यूरो मुद्रा की दर 1.32 डॉलर के मार्के से ऊपर रही.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: ए जमाल

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री