1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

यूरोप में राख के बादलों पर तकरार

ज्वालामुखी की राख अब एयरलाइंसों और यूरोपीय सरकारों के बीच तकरार की वजह बन रही है. एयरलाइंस जहां उड़ान पर पाबंदी को हटाने की मांग कर रही है, वहीं यूरोपीय आयोग का कहना है कि यात्रियों की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं होगा.

default

इस मुद्दे पर यूरोपीय देशों के यातायात मंत्रियों की एक बैठक भी हो रही है जिसमें एयरलाइंसों की आपत्तियों के साथ यात्रियों की सुरक्षा के मुद्दे पर ही खास तौर से चर्चा की जाएगी. यूरोपीय संघ के मौजूदा अध्यक्ष स्पेन के यूरोपीय मामलों के मंत्री डिएगो लोपेज गैरिदो कहते हैं, "हम इस मामले से जुड़े जोखिम का सटीक मूल्यांकन कर रहे हैं और हम सभी चाहते हैं कि यूरोपीय आसमान को फिर से खोला जाए."

सोमवार को भी भी स्पेन और आइसलैंड के ज्वालामुखी की राख से सबसे ज्यादा प्रभावित उत्तरी यूरोपीय देशों में लगभग एक हजार उड़ानों को रद्द कर देना पडा. यूरोपीय विमानन सुरक्षा से जुड़ी संस्था यूरोकंट्रोल का कहना है कि सोमवार को भी 70 फीसदी विमान उड़ा नहीं भर पाएंगे.

Infografik Karte Prognostizierte Ausbreitung der Aschewolke

यूरोप पर राख बादलों का साया

वैसे एयरलाइंसों को रहे भारी घाटे को देखते हुए यूरोपीय आयोग अपने कड़े नियमों में ढील देने की सोच रहा है ताकि सरकारें एयरलाइंसों की मदद कर सकें. हर रोज दो से तीन करोड़ डॉलर का घाटा झेल रही ब्रिटिश एयरवेज ने यूरोपीय संघ और देशों से मुआवजे की मांग की है. मोटे पर तौर उड़ानों पर लगी पाबंदी के चलते एयरलाइंसों को हर रोज 25 करोड़ डॉलर का घाटा उठाना पड़ रहा है.

एयरलाइन ही बल्कि विमानों के न उड़ने से समूचे उद्योग जगत को भी खासा नुकसान झेलना पड़ रहा है. हवाई मामलों के जानकार आर्दियास श्पेठ कहते हैं, "हवाई यातायात से जर्मनी का 35 प्रतिशत निर्यात जुड़ा है. यह बहुत बड़ी मात्रा है. इसके कारण बहुत कुछ प्रभावित हुआ है. निर्यात की समय पर आपूर्ति नहीं की जा सकी है. इस मामले में दवाओं का नाम खासकर लिया जा सकता है."

इस बीच नॉर्वे, स्वीडन, फिनलैंड, ऑस्ट्रिया, हंगरी और चेक गणराज्य जैशों ने अपने वायुक्षेत्र को कुछ हद तक खोल दिया है. लेकिन वहां से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर अब भी पाबंदी है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः प्रिया एसेलबोर्न

संबंधित सामग्री