1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

यूरोप के सात बड़े बैंक टेस्ट में फेल

अगर यूरोपीय संघ में जारी कर्ज संकट बेहद गंभीर हो जाए, तो कुल 91 में से सात बैंक ऐसे हैं जो एकदम धराशायी हो जाएंगे. सभी बैंकों को एक मुश्किल टेस्ट के जरिए परखा गया और ये सात बैंक उस टेस्ट में फेल हो गए.

default

हाइपो रियाल भी फेल

इनमें जर्मनी का सरकारी किया जा चुका बैंक ‘हाइपो रियाल एस्टेट होल्डिंग एजी' भी शामिल है. हालांकि यूरोपीय संघ के अधिकारी इस टेस्ट के कुछ पॉजिटिव नतीजों पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं. उन्हें उम्मीद है कि इन नतीजों के बाद बाजार की हालत सुधरेगी, जो संकट की वजह से बैंकों के घाटे की आशंका से जूझ रहे हैं.

Frankreich EU Börse in Paris Kurse

सात बैंकों पर उठे सवाल

यूरोपीय संघ ने कहा है कि यह एक मुश्किल टेस्ट था और इससे पता चलता है कि यूरोप का बैंकिंग सिस्टम अर्थव्यवस्था की धीमी गति और वित्तीय बाजारों के उतार चढ़ाव को संभालने के काबिल है.

यूरोपीय बैंकों पर नजर रखने वाली कमेटी ने कहा है कि अगर सरकारी बॉन्ड की कीमत एकदम गिर जाए, तो सात बैंक ऐसे हैं जिनकी संपत्ति में भारी गिरावट आएगी.

फेल होने वाले बैंकों में स्पेन के पांच बैंक शामिल हैं. ये पांचों बैंक लिस्टेड नहीं हैं. इनमें से एक सखासर बैंक को मई में बैंक ऑफ स्पेन ने बेल आउट पैकेज दिया था.

फेल होने वालों में एक बैंक ग्रीस का एटीई बैंक है. ग्रीस हाल के दिनों में जबरदस्त आर्थिक संकट से गुजर रहा है. यूरोपीयन यूनियन के मुताबिक इन सभी बैंकों को कुल मिलाकर 3.5 अरब यूरो जुटाने होंगे.

यूरोप भर में नीतियां बनाने वाले लोग इस टेस्ट के नतीजों से खुश हैं. उनका मानना है कि दूसरे विश्व युद्ध के बाद से सबसे गंभीर मंदी के बावजूद यूरोप का बैंकिंग सिस्टम अच्छी स्थिति में है.

फ्रांस की वित्त मंत्री क्रिस्टीन लगार्द ने कहा, “यह टेस्ट काफी मुश्किल और विस्तृत था और इसके नतीजे भरोसेमंद होने चाहिए. इनसे यूरोप के बैंकों का आत्विश्वास बढ़ना चाहिए.“

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए जमाल