1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

यूपी में दलित बहनों को जिंदा जलाया

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में दो दलित बहनों को जिंदा जलाने का मामला सामने आया है. पुलिस के मुताबिक एक दोहरे हत्याकांड के बाद दर्जन भर लोगों की भीड़ ने इस वारदात को अंजाम दिया. पुलिस पहले इसे आत्महत्या बताती रही.

default

इस वारदात को मुरादाबाद जिले के कोठीवाल नगर में अंजाम दिया गया. पीड़ित परिवार की महिला राजो ने कहा कि लोगों की भीड़ उनके घर के बाहर जमा हुई और मकान को आग लगा दी. राजो किसी तरह भागने में कामयाब रही लेकिन उनकी 20 साल की बेटी मोनू और 22 साल की गीता आग में फंसकर जिंदा जल गईं. एसपी सिटी राहुल यादवेंद्र के मुताबिक, ''एफआईआर दर्ज कर ली गई है. पीड़ितों की मां ने भीड़ में शामिल 12 लोगों की पहचान कर ली है.''

पुलिस के मुताबिक पीड़ित परिवार के बेटे राकेश पर एक दोहरे हत्याकांड का आरोप है. राकेश पर नौ दिसंबर को लूटपाट के इरादे से एक महिला और उसकी 10 साल की बेटी की हत्या करने का आरोप है. राकेश तब से ही फरार है. पुलिस ने राकेश के भाई राजेश को गिरफ्तार किया है.

इस हत्याकांड के बाद कुछ लोगों ने राजो के परिवार को धमकी दी. राजो ने पुलिस से खुद और अपनी दो बेटियों के लिए सुरक्षा मांगी लेकिन नहीं दी गई. मकान समेत दो युवतियों को जिंदा जलाने के बाद भी पुलिस टालमटोल करती रही. शुरू में यूपी पुलिस के डीआईजी यह तक कह गए कि दो बहनों की हत्या नहीं हुई, बल्कि उन्होंने खुदकुशी की. राजो का कहना है कि पुलिस ने पहले एफआईआर दर्ज करने तक से इनकार कर दिया.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: महेश झा

DW.COM

WWW-Links