1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

यूक्रेन की संसद में हंगामा, अंडे फेंके गए

मंगलवार के दिन जैसे ही यूक्रेन की संसद में रूस की नौसेना को देश में रहने देने के लिए समझौते को 25 साल तक बढ़ा दिया. संसद में विपक्ष ने अंडे फेंकने शुरू कर दिए. साथ ही धुंआ छोडने वाले बम भी फेंके.

default

अंडेबाज़ी से बचने के लिए छाता का सहारा

समझौते के पारित होने के बाद हालात कुछ ऐसे थे कि संसद अध्यक्ष अंडो और स्मोक बम से बचने के लिए छतरी खोलनी पड़ी और पूरे समय वे उसके पीछे छिपे रहे.

इस हंगामे का कारण था, रूस और यूक्रेन के बीच हुआ एक समझौता जिसके हिसाब से अब रूस की नौसेना यूक्रेन के सेवास्तोपोल के बंदरगाह पर 2042 तक रह सकती है. 1991 में यूक्रेन की आज़ादी के बाद से रूस ने उससे समुद्री किनारा उधार लिया था. रूस का मानना है कि काला सागर यूक्रेन और रूस दोनों के लिए सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है.

यूक्रेन की विपक्षी नेता यूलिया तिमोशेन्को का कहना है कि यह दिन यूक्रेन के इतिहास में काले अक्षरों से लिखा जाएगा. पूरा संसद सदन धुएं से भरा हुआ था और नेता अपनी अपनी नाक पर रूमाल रख कर दरवाज़े से फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों को अंदर आने से रोक रहे थे. यह पहली बार हुआ है कि विपक्षी पार्टियों ने साथ मिल कर राष्ट्रपति विक्टोर यानुकोविच का विरोध किया हो. यानुकोविच को रूसी भाषी लोगों का पूर्व और दक्षिण में भरपूर समर्थन है.

NO-Flash Ukraine Abstimmung Schwarzmeerflotte Parlament

भिड़ गए सांसद

संसद में प्रस्ताव के पक्ष में 236 मत पड़े, ज़रूरत से सिर्फ़ दस ज़्यादा. रूस ने कहा है कि वह यूक्रेन के लिए दी जाने वाले गैस की कीमत तीन अरब डॉलर कम कर देगा और यूक्रेन के उद्योगों में भारी निवेश करेगा अगर ब्लैक सी फ्लीट समझौता हो जाता है तो.

संसद के बाहर भी हालात अच्छे नहीं थे इस प्रस्ताव का विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच काफी झड़पें हुई. इसके पहले सोमवार रात को राष्ट्रपति विक्टोर यानुकोविच के वफादार लोग विधानसभा में ही रहे ताकि समझौते का विरोध करने वाले सांसद इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में घपला नहीं करें.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा मोंढे

संपादनः ओ सिंह

संबंधित सामग्री