1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

यूक्रेन: अंतरराष्ट्रीय सैन्य पर्यवेक्षक रिहा

पूर्वी यूक्रेन में रूसी समर्थक अलगाववादियों द्वारा कब्जे में लिए गए सात अंतरराष्ट्रीय सैन्य पर्यवेक्षकों को छोड़ दिया गया है. रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के विशेष दूत ने इसकी पुष्टि की है.

रूस की आरआईए न्यूज एजेंसी ने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के विशेष दूत के हवाले से कहा है कि यूक्रेन के स्लावियांस्क में रूस समर्थक अलगाववादियों द्वारा बंदी बनाए गए यूरोपीय सैन्य पर्यवेक्षकों को छोड़ दिया गया है. पुतिन के दूत व्लादिमीर लुकिन ने कहा, "मेरी सूची में जितने लोग थे उन सबको रिहा कर दिया गया है."

शहर के स्वयंभू मेयर और रूस समर्थक व्याचेस्लाव पोनोमारियोव ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि उन्हें रिहा करने की कोई शर्त नहीं थी. पोनोमारियोव ने कहा, "जैसा उनसे मैंने वादा किया था, मैंने कल अपने जन्मदिन का जश्न मनाया और वे चले गए. मैंने पहले ही कहा था कि वे मेरे मेहमान हैं."

यूरोप में सुरक्षा और सहयोग संगठन (ओएससीई) के सात पर्यवेक्षकों को 25 अप्रैल को स्लावियांस्क में बंदूकधारियों ने अपने कब्जे में ले लिया था. यह पर्यवेक्षक जर्मनी, चेक गणराज्य, डेनमार्क, पोलैंड और स्वीडन से यूक्रेन गए थे. सोमवार को जर्मनी ने रूस से सभी बंधकों की रिहाई के लिए मदद की अपील की थी. यूक्रेन के सुरक्षा विभाग का अनुमान है कि अलगाववादियों ने स्लावियांस्क में अस्थायी जेलों में 40 लोगों को बंधक बनाकर रखा है. इनमें पत्रकार, कार्यकर्ता और पर्यवेक्षक शामिल हैं.

एए/आईबी (एपी, रॉयटर्स, एएफपी)

संबंधित सामग्री