1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

युवराज सिंह टेस्ट टीम से फिर बाहर

न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम का एलान कर दिया गया है. युवराज सिंह को एक बार फिर टेस्ट टीम से बाहर रखा गया है. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बढ़िया बल्लेबाजी करने वाले पुजारा को टीम में जगह दी गई है.

default

टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक के खिताब को बचाए रखने के लिए न्यूजीलैंड के खिलाफ पूरे लाव लश्कर वाली भारतीय टीम का एलान किया गया है. टीम में सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर और तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा वापसी हुई है. यह दोनों चोट के चलते बाहर थे. वहीं ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी टेस्ट में 72 रन की निर्णायक पारी खेलने वाले चेतेश्वर पुजारा को लगातार दूसरी बार टीम में जगह मिली है.

Indiens Gautam Gambhir im Spiel gegen Neuseeland

वापस लौटे गंभीर

कमर दर्द से जूझ रहे वीवीएस लक्ष्मण भी अब फिट हैं. मिडिल ऑर्डर को मजबूती देने के लिए उन्हें टीम में शामिल किया गया है. टीम का बाकी क्रम जस का तस बरकरार है. सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, वीरेंद्र सहवाग, महेंद्र सिंह धोनी बल्लेबाजी को ताकत दे रहे हैं. विकेटों पर निशाना लगाने की जिम्मेदारी जहीर खान, ईशांत शर्मा, श्रीसंत, हरभजन सिंह, अमित मिश्रा और प्रज्ञान ओझा पर होगी.

टीम चुनने के लिए हुई बैठक में कप्तान धोनी नहीं आ पाए लेकिन वह फोन के जरिए बैठक में मौजूद थे. चयन प्रक्रिया पर मुख्य चयनकर्ता श्रीकांत ने कहा, "टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे और टेस्ट में बेहतरीन प्रदर्शन किया. खासतौर पर बैंगलोर में. हमारे जूनियर खिलाड़ियों ने सीनियरों के साथ मध्यक्रम को मजबूती दी. हमारे गेंदबाज लगातार विकेट गिराते रहे. इन सब बातों को देखने के बाद हमने तीन टेस्ट मैचों के लिए टीम चुनी है. मुझे पूरा भरोसा है कि टीम का विजय रथ जारी रहेगा. कहा जाता है कि अच्छे खिलाड़ी हमेशा जीतते हैं, मैं कहूंगा अच्छी टीम भी हमेशा जीतती है.''

Indien Cricket VVS Laxman

लक्ष्मण का कमर दर्द ठीक हुआ

हालांकि पांच लोगों की चयन समिति की बैठक में युवराज सिंह को लेकर भी काफी चर्चा हुई. लेकिन पुजारा और सुरेश रैना युवी पर भारी पड़े. श्रीलंका दौरे पर युवराज के चोटिल होने के बाद रैना को टेस्ट टीम में जगह दी गई थी. रैना तब से धमाकेदार प्रदर्शन किए जा रहे हैं. चार टेस्ट मैचों में वह अब तक एक शतक और दो अर्धशतक जड़ चुके हैं. क्रिकेट कमेंट्री की भाषा में रैना के इस प्रदर्शन ने स्पिनरों के खिलाफ जूझने वाले युवराज को आउटक्लास कर दिया है.

रैना टेस्ट मैचों में 68.20 के औसत से रन बना रहे हैं. जबकि युवराज 34 टेस्ट मैच खेलने के बावजूद अपना औसत 35.63 के पार नहीं ले जा सके हैं. स्पिनरों के खिलाफ अक्सर उन्हें परेशानी होने लगती है, ऐसी स्थिति में उन्हें टेस्ट टीम से बाहर बैठाना चयनकर्ताओं को सही विकल्प लगता है. विराट कोहली का प्रदर्शन भी युवराज के लिए मुश्किलें खड़ी कर रहा है.

न्यूजीलैंड का भारत दौरा नवंबर में शुरू हो रहा है. इस दौरान तीन टेस्ट मैच खेले जाएंगे. पहला टेस्ट चार नवंबर से अहमदाबाद में खेला जाएगा. दूसरा हैदराबाद में और आखिरी टेस्ट नागपुर में होगा. टेस्ट सीरीज के बाद पांच मैचों की वनडे सीरीज होगी. इस टूर के बाद भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए रवाना होगी.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: वी कुमार

DW.COM

WWW-Links