युद्ध हुआ तो अमेरिका होगा जिम्मेदार: उत्तर कोरिया | दुनिया | DW | 02.05.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

युद्ध हुआ तो अमेरिका होगा जिम्मेदार: उत्तर कोरिया

बढ़ते तनाव के बीच उत्तर कोरिया ने अमेरिका पर कोरियाई प्रायद्वीप को परमाणु युद्ध की तरफ धकेलने का आरोप लगाया है. 

अमेरिका ने दो सुपरसोनिक बी-1बी लांसर बमवर्षकों को दक्षिण कोरिया में तैनात किया है. अमेरिकी बमवर्षक विमान सोमवार को दक्षिण कोरिया पहुंचे. अमेरिका वायु सेना के बयान में कहा गया है कि ये बमवर्षक दक्षिण कोरिया और जापान की सेना के साथ संयुक्त अभ्यास के लिये भेजे गये हैं.

इस पर उत्तर कोरिया ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि "यहां ये बमवर्षक सभी प्रमुख इलाकों में जब बम गिराने का अभ्यास कर रहे होंगे तो उसी वक्त ट्रंप और अमेरिका के अन्य साथी उत्तर कोरिया के परमाणु हमले की आशंकाओं पर चीख रहे होंगे." उत्तर कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए के हवाले से कहा गया है कि जल्दबाजी में उठाये जा रहे सैन्य कदम कोरियाई प्रायद्वीप को परमाणु युद्ध की कगार पर ले जा रहे हैं.

इस बीच चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है कि उत्तर कोरिया अपनी परमाणु महत्वाकांक्षाओं को छो़ड़ दे, इसके लिये अमेरिका को महज चीन पर ही भरोसा नहीं करना चाहिये. अखबार ने कहा, "अप्रैल का महीना बहुत अहम रहा है लेकिन अमेरिका को भी इस मसले पर अपनी कोशिशें जारी रखनी चाहिये."

सोमवार को मीडिया से बातचीत में अमेरिका राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था, "अगर मेरे लिये उत्तर कोरियाई नेता से मिलना संभव हो सकेगा तो मैं जरूर मिलूंगा और मेरे लिये यह सम्मान की बात होगी". हालांकि ट्रंप के इस बयान की काफी आलोचना भी हुई है. ट्रंप की ओर से ऐसी मुलाकात के लिये कोई शर्त नहीं रखी गई थी लेकिन व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान में कहा गया था कि उत्तर कोरिया को ऐसी मुलाकात से पहले कई शर्तों को पूरा करना होगा. वहीं अमेरिका ने कहा है कि दक्षिण कोरिया में तैनात अमेरिकी मिसाइल डिफेंस सिस्टम अब ऑपरेशनल हो गया है.

पिछले हफ्ते समाचार एजेंसी रॉयटर्स से बातचीत में ट्रंप ने कहा था कि भविष्य में उत्तर कोरिया के साथ कोई बड़ा विवाद संभव है.

एए/एके (रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री