1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

युद्ध से नहीं डरते: दक्षिण कोरिया

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति ली म्यूंग बाक ने चेतावनी दी है कि अगर उत्तर कोरिया फिर हमला करता है तो उसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा. बाक ने प्योंगयांग तक कठोर संदेश पहुंचा दिया है कि उत्तर कोरिया से युद्ध से वह नहीं डरते.

default

सोमवार को अपने संबोधन में ली म्यूंग बाक ने उत्तर कोरिया की भड़काऊ कार्रवाई का माकूल जवाब देने और अपने पुख्ता इरादों का संकेत देना चाहा. "हम अब यह महसूस करने लगे हैं कि युद्ध को तभी रोका जा सकता है और शांति तभी स्थापित हो सकती है जब उकसावे भरी हरकतों का मुंहतोड़ जवाब दिया जाए. युद्ध से डर कभी भी उसे टालने में मदद नहीं करता. दक्षिण कोरिया की सेना पर अगर हमला होता है तो उसे जबरदस्त जवाब देना ही होगा."

कोरियाई देशों के बीच तनाव चरम पर है और दोनों देश लगातार तेवर उग्र होते जा रहे हैं. कुछ हफ्ते पहले उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरियाई द्वीप येओनपेयोंग पर गोलाबारी की जिसमें चार दक्षिण कोरियाई नागरिकों की मौत हो गई. दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर उकसावेपूर्ण कार्रवाई का आरोप लगाया. ली म्यूंग बाक ने किम जोंग के नेतृत्व वाले उत्तर कोरियाई शासन को दुनिया की सबसे झगड़ालू हुकूमत करार दिया है.

Nordkorea Südkorea Kriegsschiff Konflikt

ली म्यूंग बाक

दक्षिण कोरिया ने हाल के दिनों में कई सैन्य अभ्यास किए हैं. 20 दिसंबर को येओनपेयोंग द्वीप पर भी अभ्यास किया गया और इसके जरिए उत्तर कोरिया को संदेश दिया गया कि दक्षिण कोरिया किसी भी कार्रवाई के लिए तैयार है. उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया को सैन्य अभ्यास करने के खिलाफ चेतावनी दी थी लेकिन सैन्य अभ्यास बदस्तूर जारी रहा.

विशेषज्ञों का कहना है कि येओनपेयोंग द्वीप पर गोलाबारी उत्तर कोरिया में सत्ता के हस्तांतरण की शुरुआत हो सकती है. उनके मुताबिक किम जोंग इल अब शासन अपने बेटे किम जोंग उन को सौंपना चाहते हैं और उनके लिए जनता में एकजुटता पैदा करने के लिए देश में युद्ध जैसा माहौल खड़ा करने की कोशिश की जा रही है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links