1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

यश चोपड़ा को स्विस सम्मान

मशहूर भारतीय फिल्मकार यश चोपड़ा को 2010 का स्विस एंम्बेसेडर्स अवॉर्ड दिया गया है. बॉलीवुड में किंग ऑफ रोमांस के नाम से मशहूर चोपड़ा ने अपनी फिल्मों के जरिए स्विट्जरलैंड को खूब बढ़ावा दिया है.

default

स्विट्जरलैंड से प्यार है

यश चोपड़ा ने अपनी ज्यादातर फिल्मों की शूटिंग स्विट्जरलैंड में की है. दरअसल उन्हें अपने हनीमून के वक्त से ही इस देश से प्यार हो गया. वह कहते हैं, "भारत के बाहर शूटिंग के लिए स्विट्जरलैंड मेरी पहली पसंद रहती है. अब बात चाहे बर्फ से ढके पहाड़ों की हो या हरे भरे मैदानों की, यह सचमुच धरती पर स्वर्ग है. इसके हर एक नजारे ने मेरी फिल्मों को सजाया है जो दर्शकों के दिलोदिमाग में समा जाती हैं."

स्विट्जरलैंड के राजदूत फिलिपे वेल्टी ने 'आगे भी जाने ना तू' गाने से समारोह की शुरुआत की जो 1965 की यश चोपड़ा की फिल्म वक्त से लिया गया है. वेल्टी ने कहा, "1965 से ही यश चोपड़ा का स्विट्जरलैंड से नाता रहा है. अपनी गोल्डन जुबली फिल्म वक्त की शूटिंग से ही वह वहां जाते रहे हैं. बहुत से भारतीयों के लिए यश चोपड़ा की फिल्में ही सपनों के इस देश को देखने का जरिया रही हैं."

इस मौके पर यश चोपड़ा को बधाई देने के लिए बॉलीवुड अभिनेत्री और स्विट्जरलैंड की टिसो घड़ियों की ब्रांड एम्बेसेडर दीपिका पादुकोण भी मौजूद थीं. उन्होंने कहा कि वह यश चोपड़ा की फिल्मों को देख कर बड़ी हुई हैं और उनकी बड़ी प्रशंसक हैं. स्विस एंम्बेसेडर्स अवॉर्ड उन लोगों को दिया जाता है जिन्होंने भारत और स्विट्जरलैंड के बीच रिश्तों को बढ़ावा देने में अहम भूमिका अदा की है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links