1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

म्यूनिख में चीन जैसा हमला, एक व्यक्ति की मौत

जैसे चीन और इस्राएल में आतंकवादी चाकुओं से हमला करते रहे हैं, जर्मनी के म्यूनिख में ठीक वैसा ही हमला हुआ है. इस हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई है. हमला राजनीतिक या आतंकवादी तो नहीं, इस बारे में कोई जानकारी नहीं है.

जर्मनी के शहर म्यूनिख के नजदीक एक ट्रेन स्टेशन पर एक व्यक्ति ने वहां खड़े लोगों पर चाकू से हमला कर दिया. इस हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई और तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हैं. बवेरिया के गृह मंत्री योआखिम हैरमन ने कहा है कि जांचकर्ताओं ने पाया है कि हमलावर का मनोवैज्ञानिक और ड्रग प्रोब्लेम है. 27 वर्षीय हमलावर के इस्लामी कट्टरपंथ से संबंध होने के अब तक संकेत नहीं मिले हैं.

बवेरिया राज्य के पुलिस प्रवक्ता ने एक बयान जारी कर बताया है कि यह हमला स्थानीय समय के मुताबिक सुबह करीब 5 बजे हुआ. प्रवक्ता कार्ल-हाइंत्स सेगेरर के मुताबिक आरोपी 27 साल का एक युवक है. उसने लोकल ट्रेन स्टेशन ग्राफिंग पर सुबह करीब 4.50 पर ट्रेन में खड़े एक व्यक्ति को चाकू मार दिया. फिर वह बाहर निकला और प्लैटफॉर्म पर खड़े व्यक्ति पर हमला कर दिया. वहां से आरोपी हमलावर स्टेशन के बाहर आ गया और साइकिल पर जा रहे दो और लोगों पर हमला किया.

पुलिस उसी वक्त मौके पर पहुंच गई और आरोपी को काबू कर लिया गया. सेगेरर ने बताया कि हमलावर के पास 10 सेंटीमीटर लंबा चाकू था. यह व्यक्ति बावेरिया में रजिस्टर्ड नहीं है. ग्राफिंग म्यूनिख के नजदीक ही एक छोटा सा कस्बा है.

पुलिस मामले की जांच कर रही है. कुछ चश्मदीदों का कहना है कि हमलावर युवक ''अल्लाह हू अकबर'' के नारे लगा रहा था लेकिन पुलिस ने फिलहाल इसकी पुष्टि नहीं की है क्योंकि कुछ अन्य चश्मदीदों का कहना है कि हमलावर ने ऐसा कोई नारा नहीं लगाया. सेगेरर ने कहा कि हमलावर ने राजनीति से प्रेरित कुछ बयान दिए हैं लेकिन यह उजागर नहीं किया गया है कि उसने क्या कहा.

यह मामला इसलिए गंभीर हो सकता है क्योंकि चीन समेत कई मुल्कों में आतंकवादियों ने ठीक इसी तरह के हमले किए हैं. 2014 में चीन के कुनमिंग में आठ आतंकवादियों ने ऐसा ही हमला करके 29 लोगों की जान ले ली थी. पिछले साल दिसंबर में लंदन के एक सबवे स्टेशन पर भी ऐसा ही हमला हुआ था हालांकि उसमें किसी की जान नहीं गई थी. फलीस्तीनी उग्रवादी इस्राएल में इस तरह के हमले करते रहे हैं.

वीके/एमजे (डीपीए, एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री