1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

मोदी पर बरसे बीसीसीआई अध्यक्ष

अपनी गर्दन फंसती देख ललित मोदी पर सख़्त हुई बीसीसीआई. बोर्ड अध्यक्ष शंशाक मनोहर ने कहा, मोदी ने आईपीएल फ्रैंचाइजी वाली जानकारी तीन साल क्यों छुपाए रखी. इनकम टैक्स विभाग ने दूसरी बार मोदी से पूछताछ की.

default

तीन साल तक भरपूर सहयोग देने के बाद अब बीसीसीआई ललित मोदी से ख़फ़ा है. बोर्ड पर मोदी पर कई बातों को छुपाने के आरोप लगा रहा है. बुधवार को बीसीसीआई अध्यक्ष ने कहा, ''सवाल यह उठता है कि मिस्टर मोदी ने आठ टीमों की फ्रैंचाइजी की जानकारी तीन साल तक क्यों नहीं दी, जबकि उनके पास यह जानकारी 2007 से थी.''

शंशाक मनोहर ने यह नहीं बताया कि इन तीन सालों में बोर्ड ने आख़िर मोदी से यह जानकारी क्यों नहीं मांगी. बहरहाल बीसीसीआई को अब मोदी की ट्विटरबाज़ी पर खीझ हो रही है. शंशाक मनोहर का कहना है, ''मोदी ने ट्विटर पर कोच्चि फ्रैंचाइजी की जानकारी पोस्ट की. इसी आधार पर अब मीडिया पूछ रहा है कि मोदी ने बाक़ी आठ टीमों की फ्रैंचाइजी की जानकारी क्यों नहीं दी.''

Indischer Premierminister Manmohan Singh

पीएम तक पहुंचा मामला

क्रिकेट की आड़ में चल रहे अपार पैसा छापने का यह मामला अब प्रधानमंत्री की मेज़ तक भी पहुंच गया है. बुधवार को बीसीसीआई उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने मनमोहन सिंह से मुलाकात की. बीते तीन दिनों में राजीव शुक्ला और प्रधानमंत्री के बीच यह दूसरी मुलाकात थी. बातचीत को गोपनीय बताते हुए बीसीसीआई उपाध्यक्ष ने कहा, ''मेरे और हमारे नेता के बीच क्या बात हुई, यह मैं कैसा बता दूं.''

शुक्ला ने कहा कि 26 अप्रैल को आईपीएल प्रशासनिक बोर्ड की बैठक होगी और ज़रूरत पड़ने पर कड़े से कड़े कदम उठाए जाएंगे. माना जा रहा है कि ललित मोदी को हटाने की पूरी तैयारियां हो चुकी हैं, इंतज़ार है तो बस 26 अप्रैल का.

तो ज़ाहिर है कि आईपीएल इन दिनों मैचों की वजह से कम और विवाद की वजह से ज़्यादा चर्चा में हैं. मामला करोड़ों-अरबों रुपये, ग्लैमर और तिकड़मबाज़ी का है. शक के घेरे में कई नामी गिरामी है, मैच फ़िक्सिंग के बाद भारत में क्रिकेट का खेल सबसे बड़ा विवाद झेल रहा है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: उज्ज्वल भट्टाचार्य

संबंधित सामग्री