1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

मोदी के वकील ने मनोहर की खिंचाई की

बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर पर भड़के ललित मोदी के वकील. आईपीएल के निलंबित कमिश्नर मोदी के वकील ने मनोहर के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण और असंयमित बताया. बयानबाजी के बाद अब दोनों पक्ष आर पार की लड़ाई के मूड में आए.

default

मुश्किलों में घिरे हैं मोदी

बीसीसीआई के सचिव एन श्रीनिवासन का बचाव करने उतरे मनोहर को ललित मोदी की नाराजगी झेलनी पड़ी. शनिवार को मनोहर के बयान के कुछ ही घंटों बाद मोदी कैंप की तरफ से जवाबी हमला हुआ. मोदी के वकील महमूद अब्दी ने कहा, ''बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर के मुंह से ललित मोदी के लिए झूठा जैसा असंयमित शब्द सुनना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण हैं.''

मोदी का आरोप है कि 2009 में आईपीएल की नीलामी फिक्स थी. नीलामी का तो सिर्फ नाटक हुआ था. खिलाड़ियों को खरीदने का खेल अंदर ही अंदर पहले ही सेट हो चुका था. मोदी के मुताबिक श्रीनिवासन ने इंग्लैंड के हरफनमौला खिलाड़ी एंड्र्यू फ्लिंटॉफ को अपनी टीम चेन्नई सुपरकिंग्स में लेने के लिए उनसे संपर्क किया. मोदी ने श्रीनिवासन के साथ हुए ईमेल व्यवहार का हवाला देते हुए यह आरोप लगाए हैं.

इन आरोपों के बाद बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर सचिव श्रीनिवासन के बचाव में उतर आए. उन्होंने कहा, ''मैं ऐसे कागजात पेश कर सकता हूं जिसने यह साबित हो जाएगा कि मिस्टर मोदी श्रीनिवासन के खिलाफ सफेद झूठ बोल रहे हैं.''

दरअसल आईपीएल का सारा विवाद पिछले साल कोच्चि टीम की नीलामी से शुरू हुआ. तत्कालीन विदेश राज्यमंत्री शशि थरूर पर अपनी करीबी सुनंदा पुष्कर की मदद करने के आरोप लगे. थरूर को इस्तीफा देना पड़ा, जिसके बाद सरकार ने मामले की सख्त जांच के आदेश दे दिए और सारा गड़बड़ घोटाला सामने आ गया. तब से इनकम टैक्स विभाग बीसीसीआई और ललित मोदी के पीछे पड़ा हुआ. वहीं विवाद की भेंट चढ़ने वाले थरूर सुनंदा पुष्कर से शादी करने के बाद अब हनीमून मना रहे हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: ए कुमार

DW.COM

WWW-Links