1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मोटापे से परेशान अमेरिकी सेना को योग करने की सलाह

अमेरिकी सेना मोटापे से परेशान है. ऊंचे ओहदों पर बैठे उसके अफसरों का पेट बढ़ता जा रहा है. इस समस्या से निपटने के लिए जब सेना ने एक मशहूर टीवी फिटनेस गुरु से टिप्स मांगे, तो जवाब मिला योग.

default

भारतीय सेना में भी योग होता है

टोनी हॉर्टन ने सेना को सलाह दी है कि अफसर अपना दिमाग शांत रखें और योग करें. 52 साल के टोनी ने कहा, “मैं जानता हूं कि सेना की ट्रेनिंग में योग की बात करना अजीब लगता है, लेकिन अब दंड बैठक, ऊठक बैठक और लंबी दौड़ का वक्त खत्म हो चुका है.“

टोनी कहते हैं कि योग दरअसल व्यायाम की शक्ति और इसके सकारात्मक प्रभावों को बढ़ाता है. यह शरीर के हर जोड़ को जरूरी चिकनाई देता है और चोट लगने की संभावना को कम कर देता है.

टोनी अमेरिका की कई हस्तियों को योग सिखा चुके हैं. इनमें फिल्म स्टार शॉन कॉनरी भी शामिल हैं. इसके अलावा वह ऐंड्रयूज एय फोर्स बेस और फोर्स ब्रैग में सैनिकों को भी योग करा चुके हैं. उनका कहना है कि मोटापा राष्ट्रीय सुरक्षा की समस्या है. लोग इतने मोटे हो चुके हैं कि वे लड़ ही नहीं सकते.

इसी साल अमेरिका के दो रिटायर्ड जनरलों जॉन शालिकाशविली और ह्यूग शेल्टन ने भी ऐसी ही चेतावनी दी थी. पेंटागन के एक अध्ययन के मुताबिक 2003 से अब तक अमेरिकी सेना में मोटे होने की दर दोगुनी हो चुकी है. टोनी बताते हैं कि 1995 से 2008 के बीच सेना में मोटे लोगों की संख्या तीन गुनी हो गई थी. यही नहीं, 1998 में अमेरिकी सेना में 1.8 फीसदी सैनिक मोटे थे. 2008 में इनकी तादाद बढ़कर 4.4 फीसदी हो गई.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए कुमार

संबंधित सामग्री