1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मैर्केल और ओबामा ने किया एकता का प्रदर्शन

जर्मनी का दौरा कर रहे अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल ने एकता का प्रदर्शन किया. आईएस और सीरिया जैसी अंतरराष्ट्रीय समस्याओं के समाधान और मुक्त व्यापार समझौते पर उन्होंने सहयोग पर जोर दिया.

वीडियो देखें 01:50

यूरोपीय एकता पर जोर

कार्यकाल खत्म होने से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का अंतिम जर्मन दौरा जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल के लिए प्रेम निवेदन जैसा था. शरणार्थी संकट से जूझ रही जर्मन चांसलर की तारीफ और यह संदेश कि यूरोप को उनकी जरूरत है.

जिस किसी ने ओबामा के दौरे का अंदाज देखा यही कहेगा, और संभव नहीं था, नहीं तो उन्हें अपने मेजबान को चूमना पड़ता. ओबामा के बयानों को इतिहास मैर्केल के लिए राजनीतिक प्रणय निवेदन के रूप में याद करेगा. उन्होंने कहा, "यह मेरे कार्यकाल का सबसे महत्वपूर्ण रिश्ता है, सबसे महत्वपूर्ण दोस्ती है." शरणार्थी मुद्दे पर मैर्केल दोस्तों और दुश्मनों के अलावा मतदाताओं की मार झेल रही हैं, लेकिन ओबामा ने कहा कि शरणार्थी नीति में वे इतिहास के सही पत्र में खड़ी हैं. उन्हें इस बात की खुशी है कि मैर्केल तब भी चांसलर रहेंगी जब वे राष्ट्रपति नहीं रहेंगे. "दुनिया को उनकी दृढ़ उपस्थिति का फायदा होगा. वे वही करती हैं जो कहती हैं." निजी इंसान के रूप में वे उन्हें याद करते रहेंगे.

ये शब्द सिर्फ जर्मनी के लिए ही नहीं, बल्कि पूरे यूरोप के लिए वसीयत जैसे लगते हैं. हालांकि ओबामा के जर्मनी आने का मकसद हनोवर के व्यापार मेले का उद्घाटन करना है जिसमें अमेरिका इस साल पार्टनर देश है लेकिन चांसलर मैर्केल और ओबामा की यह मुलाकात दोनों ही देशों के लिए मुश्किल समय में हो रही है. अमेरिका के लिए आतंकवाद का अनसुलझा खतरा और चांसलर मैर्केल के लिए अनसुलझी शरणार्थी समस्या. अमेरिका सरकार बढ़ते पैमाने पर इस बात पर चिंतित है कि यूरोप यूक्रेन विवाद से लेकर शरणार्थी संकट लड़खड़ा रहा है. अमेरिका रूस के दरवाजे पर एक कमजोर और अविभाजित यूरोप नहीं चाहता है.

अंगेला मैर्केल तारीफ में अपनी उदारता के लिए नहीं जानी जाती. ओबामा की तारीफ का जवाब वे कंजूसी से देती हैं, "हमारे द्विपीक्षीय संबंध अच्छे हैं, उसमें हमें बहुत सारा समय लगाने की जरूरत नहीं होती." अपनी ओर से वे सात साल के साझे सालों का अंतरिम मूल्यांकन करती हैं. इसलिए भी कि अभी बहुत सारी चुनौतियां बाकी हैं. वे कहती हैं, "अतीत से ज्यादा महत्वपूर्ण राष्ट्रपतिजी के साथ भविष्य है." यह भविष्य और नौ महीने का है. ओबामा मजाक करते हैं कि मैर्केल मजाकिया स्वभाव की हैं लेकिन इसे प्रेस कॉन्फ्रेंस में नहीं दिखाती हैं.

ओबामा जैसे तय कर आए हैं कि वे इस बार तारीफ से बाज नहीं आएंगे. वे कहते हैं, "मैं अंगेला की एक बार फिर उनके साहसिक नेतृत्व के लिए तारीफ करूंगा, जो उन्होंने तब जर्मनी और यूरोप में दिखाया जब सीरिया संकट और दूसरी जगहों के संकट के मारे शरणार्थी इलाके में आ रहे थे." उन्होंने आगे कहा, "शायद इसलिए कि वह खुद पहले दीवार के पीछे रही हैं, अंगेला उन लोगों के सपनों को समझती है, जिन्हें आजादी से वंचित रखा गया है और जो बेहतर जिंदगी की तलाश में हैं."

यूरोप के लिए ओबामा का संदेश था कि अमेरिका यूरोप के साथ है लेकिन यूरोप को और ज्यादा प्रयास करने की जरूरत है. ऐसे समय में जब अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद का निशाना यूरोप है, अर्थव्यवस्था धीमी गति से चल रही है, और मुक्त व्यापार समझौते टीटिप की बातचीत रुकी हुई है, शरणार्थी संकट का समाधान नहीं हुआ है, यूरोप को एकजुट रहने की जरूरत है.

एमजे/आईबी (डीपीए)

DW.COM

इससे जुड़े ऑडियो, वीडियो

संबंधित सामग्री