1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

मैच फिक्सिंग के सबूत देगा पीसीबी

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को इस बात के सबूत देने हैं कि ऑस्ट्रेलिया दौरे में उसके खिलाड़ियों ने सिडनी टेस्ट मैच को फिक्स कर लिया था. कामरान अकमल पर मैच फिक्सिंग में शामिल होने का शक जताया जा रहा है.

default

पाकिस्तान के विकेटकीपर कामरान अकमल पर शक

ऑस्ट्रेलिया का दौरा पाकिस्तान के लिए अब तक के सबसे खराब क्रिकेट दौरों में था, जिसमें टीम वनडे, टेस्ट और ट्वेन्टी 20 के अपने सभी मैच हार गई. लेकिन जांच का दायरा सिमट कर सिडनी टेस्ट मैच की ओर झुकता दिख रहा है.

'द ऑस्ट्रेलियन' ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि इस मैच में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने हैरत भरा खेल दिखाते हुए बहुत कमजोर पड़ने के बाद कम बैक किया और बाद में मैच जीत लिया. हालांकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के एक प्रवक्ता का कहना है कि उन्हें मैच फिक्सिंग के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

एक पूर्व टेस्ट खिलाड़ी का कहना है कि इस मैच का नतीजा जिस तरह आया, उसे लेकर वह इस मैच को बेहद संदेह की दृष्टि से देखते हैं लेकिन कुछ भी साबित नहीं किया जा सकता है.

पाकिस्तान की टीम अपनी दूसरी पारी में जीत के लिए 175 रन का पीछा कर रही थी और उसका स्कोर एक वक्त एक विकेट पर 50 रन था. लेकिन इसके बाद पाकिस्तानी पारी ताश के पत्तों की तरह ढह गई और वे मैच 36 रन से हार गए. इस बात का संदेह है कि इस मैच का नतीजा पहले ही तय कर लिया गया था.

इस बीच, पाकिस्तान में खेल पर बनी संसदीय समिति ने बोर्ड के उच्च अधिकारियों को तलब किया है, जिनसे मैच फिक्सिंग पर जवाब तलब किए जाएंगे. समिति ने एक बयान जारी कर कहा कि पीबीसी अध्यक्ष एजाज बट, ऑस्ट्रेलिया दौरे के कोच इंतखाब आलम, पूर्व कप्तान यूनुस खान और दूसरे अधिकारियों को सोमवार को हाजिर होना है.

पाकिस्तान में एक वीडियो लीक होने का मामला भी तूल पकड़ता जा रहा है, जिसमें पीसीबी के वरिष्ठ अधिकारी मैच फिक्सिंग पर बात कर रहे हैं. सबसे ज्यादा शंका विकेटकीपर कामरान अकमल पर जताया जा रहा है.

अकमल ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज माइकल हसी का कैच तीन बार छोड़ दिया और एक आसान रन आउट भी नहीं कर पाए. इसके बाद हसी ने दूसरी पारी में 138 नाबाद रन बनाए. पाकिस्तान बेहद मजबूत स्थिति में पहुंचने के बाद भी हार गया.

वीडियो में आलम ने कहा, "मैं हतप्रभ हूं कि कामरान ने रन आउट मिस कर दिया. गेंद उसके हाथ में थी और बल्लेबाज क्रीज से बहुत दूर था. मैंने मैच फिक्सिंग की कहानियां सुनी हैं और मुझे बहुत शक हो रहा है."

जावेद ने भी कुछ ऐसा ही कहा, "कामरान ने जैसे रन आउट मिस किया, मुझे संदेह है. जब मैंने यह देखा तो मुझे यकीन ही नहीं हुआ. वह ऐसा कैसे कर सकता है. मैं 100 प्रतिशत तो नहीं कह सकता लेकिन मुझे शक है कि मैच फिक्सिंग हुई है."

जाहिर है कामरान अकमल ने मैच फिक्सिंग के आरोपों से इनकार किया है. अब इसकी जांच के बाद सच्चाई सामने आ पाएगी, कम ही उम्मीद है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः महेश झा

संबंधित सामग्री