1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

मैं तो पहले ही कप्तान बन जाताः अफरीदी

पाकिस्तान टेस्ट क्रिकेट के कप्तान शाहिद अफरीदी ने खुलासा किया है कि वह चार पांच साल पहले ही पाकिस्तान क्रिकेट टीम की कप्तानी का जिम्मा संभालने को तैयार थे और इसकी तैयारी भी पूरी हो गई थी. पर बोर्ड ने वादा नहीं निभाया.

default

अफरीदी ने कहा, "चार साल पहले मुझे इस बात का भरोसा दिया गया था कि मैं ही पाकिस्तान क्रिकेट का कप्तान बनाया जा रहा हूं. लेकिन अगले दिन किसी और को नियुक्त कर दिया गया. पीसीबी ने मुझे कहा कि मैं ही कप्तान बन रहा हूं लेकिन अगले दिन किसी और के नाम का एलान हो गया." हालांकि अफरीदी ने यह नहीं बताया कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उनकी जगह किसे कप्तान बनाया.

उनका कहना है, "मुझे बड़ा दुख पहुंचा. उन्होंने इस बात को मुझे बताने की जरूरत भी नहीं समझी. लेकिन अब यह बात पुरानी हो गई है और चीजें नए तरीके से शुरू हो रही हैं." अफरीदी का कहना है कि उनके ऊपर कप्तानी का अच्छा खासा दबाव है लेकिन फिर भी वह कप्तानी का मजा ले रहे हैं.

Cricketspieler Shahid Afridi

पहले ही बन जाता कप्तान...

पाकिस्तान क्रिकेट के कप्तान कहते हैं, "मुझे नई जिम्मेदारी मिली है और मैं कप्तानी को एंजॉय कर रहा हूं."

लगभग चार साल तक टेस्ट क्रिकेट से बाहर रहने के बाद भी शाहिद अफरीदी को पाकिस्तान का टेस्ट कप्तान बनाया गया है. उनके नेतृत्व में पाकिस्तान की टीम इंग्लैंड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेल रही है.

पाकिस्तान का पिछला ऑस्ट्रेलिया दौरा बहुत बुरा साबित हुआ था. टीम ने वहां टेस्ट, वनडे और ट्वेन्टी 20 के सारे मैच गंवा दिए. इसके बाद टीम के अनुशासन पर भी सवाल उठे और दो सबसे सीनियर खिलाड़ी मोहम्मद यूसुफ और यूनुस खान पर पाबंदी लगा दी गई. अफरीदी सहित कई खिलाड़ियों पर जुर्माना और पाबंदी भी लगी. लेकिन बाद में ट्वेन्टी 20 वर्ल्ड कप से पहले अफरीदी को पाकिस्तान का कप्तान बना दिया गया.

31 साल के अफरीदी का वनडे में शानदार रिकॉर्ड है और उन्होंने सिर्फ 37 गेंद पर सैकड़ा जमा कर तहलका मचा दिया था. यह रिकॉर्ड आज भी कायम है. उनके नाम 296 वनडे हैं लेकिन पिछले 12 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर में उन्होंने सिर्फ 26 टेस्ट मैच खेले हैं.

रिपोर्टः पीटीआई/ए जमाल

संपादनः आभा एम