1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

मेसी को काबू करने का जर्मन फॉर्मूला

वर्ल्ड कप के खिताबी मुकाबले से पहले जर्मनी के कोच का कहना है कि अर्जेंटीना के मेसी से निपटने के लिए उनके पास एक गुप्त मंत्र है लेकिन यह वे किसी को बताएंगे नहीं. रविवार को है मुकाबला.

कोच योआखिम लोएव का कहना है कि उनके खिलाड़ी रविवार को माराकाना में होने वाले मैच के लिए तैयार हैं. लोएव के असिस्टेंट हांसी फ्लिक ने बताया कि उनके खिलाड़ियों ने मेसी पर नियंत्रण करने का फॉर्मूला तैयार कर लिया है. उन्होंने कहा, "निश्चित तौर पर हमने देखा कि नीदरलैंड्स ने किस तरह से मेसी को बांधे रखा. हम भी कई बार अर्जेंटीना के खिलाफ खेल चुके हैं और हमारे पास भी एक प्लान है. लेकिन हम यह बता नहीं सकते."

सेमीफाइनल मुकाबले में नीदरलैंड्स ने अपने एक खिलाड़ी को लगातार मेसी को बांध कर रखने के लिए छोड़ रखा था. इसकी वजह से मेसी गेंद मिलने के बाद भी तेजी से आगे नहीं बढ़ पा रहे थे. आखिर में मैच का नतीजा पेनाल्टी शूट से तय हुआ. अर्जेंटीना भी जानता है कि अगला मुकाबला एक ऐसी टीम से है, जिसने पिछले वर्ल्ड कप में उसे चार गोल से हराया था.

जर्मनी के लेफ्ट बैक बेनेडिक्ट होवेडेस का कहना है, "अब हम खिताब घर ले जाना चाहते हैं. अगर हम ऐसा नहीं करते हैं, तो लोग सेमीफाइनल के बारे में चर्चा करते रहेंगे." सेमीफाइनल में जर्मनी ने ब्राजील को 7-1 से हराया है.

फ्लिक ने माना कि कई ऐसे तथ्य हैं, जो जर्मनी के साथ हैं. यहां तक कि उनका सेमीफाइनल भी अर्जेंटीना से एक दिन पहले हुआ. जिसके बाद उन्हें आराम करने का ज्यादा मौका मिला. इसके अलावा अर्जेंटीना को मैच पेनाल्टी तक में ले जाना पड़ा, जबकि जर्मनी ने तय वक्त में ही जीत हासिल कर ली. लेकिन फाइनल का मुकाबला तो हमेशा अलग होता है.

एजेए/ओएसजे (डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री