1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

मेलबर्न में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को रुलाया

एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी मात्र 98 रन पर सिमटी. जेम्स एंडरसन और क्रिस ट्रेमलेट ने चार चार विकेट गिराकर कंगारुओं को 43 ओवर में तबाह किया. जवाब में इंग्लैंड की धमाकेदार शुरूआत.

default

मेलबर्न की तेज और उछाल भरी पिच पर टॉस जीतने के बाद इंग्लैंड ने रिकी पोंटिंग की टीम को बल्लेबाजी का न्योता दिया. एक तरह से कहा जाए तो टॉस हारने के साथ ऑस्ट्रेलिया की मुश्किलें शुरू हो गईं. सलामी बल्लेबाज शेन वाटसन एक और फिलिप ह्यूज 16 रन ही बना सके.

37 रन पर दो विकेट खोने के बाद कप्तान पोंटिंग क्रीज पर आए लेकिन 10 रन ही बना सके. उन्हें ट्रेमलेट ने अपना शिकार बनाया. इन झटकों के बाद तो दाएं हाथ के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का तूफान आया. एंडरसन मेजबान टीम के मध्य क्रम की बांहें मरोड़ते चले गए. पहले संकटमोचक माने जाने वाले माइकल हसी की पारी को आठ रन पर खत्म किया.

माइकल क्लार्क और स्टीवन स्मिथ तो हवा हवा में निकल लिए. एंडरसन की गेंद उछाल के साथ इतनी स्विंग हो रही थी कि ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज लाचार हो गए. हसी, क्लार्क और स्मिथ बेहतरीन आउट स्विंग में विकेटकीपर प्रायर को कैच थमा बैठे. इस तरह 77 रन पर सात विकेट खोकर ऑस्ट्रेलिया की उम्मीदें खत्म हो गईं.

जिस पिच पर नामी बल्लेबाज नहीं चले, उस पर पुछल्ले क्रम से उम्मीद लगाना बेकार था. ट्रेमलेट, एंडरसन और ब्रेसनन के सामने बल्ला पकड़कर आए गेंदबाजों की एक न चली. इस प्रकार ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम टेस्ट के पहले ही दिन सिर्फ 42.5 ओवर में 98 रन बनाकर ढेर हो गई.

इसके बाद तीसरे टेस्ट में हार झेलने वाले इंग्लैंड ने धमाकेदार शुरूआत की. कप्तान एंड्र्यू स्ट्रॉस और एलिस्टर कुक ने कंगारू गेंदबाजों की धुर्रियां उड़ा दी. पहले दिन का खेल खत्म होने पर इंग्लैंड का स्कोर रहा 157/0. कुक 80 और स्ट्रॉस 64 रन पर खेल रहे हैं.

इस तरह इंग्लैंड को पहले दिन के खेल में ही 59 रन की बढ़त हासिल हो गई है. मेहमान टीम के सभी विकेट अभी सुरक्षित हैं. पिछले मैच के मैन ऑफ द मैच मिचेल जॉनसन की दोनों ने खूब धुनाई की है. जानसन ने सात ओवर में 42 रन खर्चे हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एस गौड़

DW.COM

WWW-Links