1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

मेदवेदेव का एलान: बख्शेंगे नहीं

मॉस्को के हवाई अड्डे पर हुए आतंकवादी बम धमाके के बाद पूरे देश में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी. राष्ट्रपति मेदवेदेव ने कहा, खोजेंगे और सजा देंगे.

default

एयरपोर्ट पर चेक इन कर रहे यात्रियों के बीच घुस कर खुदकुश हमलावर ने अचानक खुद को उड़ा दिया. जिससे वहां जमा आस पास के लोग मारे गए. एयरपोर्ट पर अपने रिश्तेदार को लेने पहुंची येकातिरेना अलेक्सेद्रोवा ने बताया, "धमाका बिलकुल मेरे पास हुआ. मैने उसकी धमक भी महसूस की. लोग आस पास गिरने लगे. इसके बाद अचानक धुआं फैल गया, घायल हुए लोग हैरान परेशान बाहर भागने लगे."

हमले के बाद रूस के राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव ने दावोस की अपनी यात्रा स्थगित कर दी. उन्होंने कहा कि उत्तरी कॉकेशस से रूस की सुरक्षा को सबसे ज्यादा खतरा है. रूसी विद्रोहियों ने मुख्य बाज़ारों और शहरों को निशाना बनाने की धमकी दे रखी है.

अभी तक किसी ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन जानकारों का कहना है कि यह हमला मुस्लिम चरमपंथियों से मिलता जुलता है. रूस में भी चेचेन्या इलाके में मुस्लिम विद्रोहियों का बोलबाला है.

हमले के कुछ देर बाद इंटरनेट पर इसकी तस्वीरें और विडियो पोस्ट किए गए जिसमें दिखाई देता है कि किस तरह चेक इन काउंटर के पास अचानक धुआं भरता है और वहां जमीन पर पड़े लोग दिखते हैं. विस्फोट के बाद एयरपोर्ट कर्मचारियों ने मुस्तैदी का परिचय दिया और लोगों को बाहर निकलने में मदद की. विडियो में देखा जा सकता है कि कर्मचारियों ने यात्रियों को आनन फानन में बाहर निकाला.

अब यात्रियों की सूची और उड़ानों को देखते हुए संदिग्ध हमलावरों की तलाश की जा रही है और इस बीच राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव ने टीवी संदेश में कहा कि गुनहगारों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा.

रूसी विशेषज्ञों का कहना है कि विद्रोहियों ने 2012 में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों से पहले अपने हमले तेज करने का अभियान चलाया है. उस चुनाव में व्लादिमीर पुतिन एक बार फिर राष्ट्रपति पद के लिए खड़े हो सकते हैं.

हमले के बाद दोमोदेदोवो हवाई अड्डे को बंद कर दिया गया है और यहां के मुसाफिरों को मॉस्को के दूसरे दो एयरपोर्टों पर भेजा जा रहा है.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः ए जमाल

DW.COM

WWW-Links