1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

मुस्लिम एथलीटों के लिए 'हाई टेक' हिजाब

दुनिया के सबसे बड़े स्पोर्ट्सवियर निर्माताओं में शामिल अमेरिकी कंपनी नाइकी मुसलमान महिला एथलीट्स के लिए हाई टेक हिजाब लाएगी. इसी के साथ नाइकी किसी धर्म विशेष के लिए खास परिधान बनाने वाली पहली बड़ी कंपनी बन गई है.

साल 2018 की शुरुआत तक नाइकी इस्लामिक हेडस्कार्फ की तर्ज पर तैयार अपने नए हाई टेक हिजाब बाजार में उतार देगी. इस्लाम में लड़कियों का सिर ढकना अहम माना जाता है. एथलेटिक प्रतियोगिता के दौरान सिर ढकने वाले इस हिजाब को कंपनी "प्रो हिजाब" ब्रांड का नाम दे रही है. कंपनी के अनुसार इसका मकसद इस्लाम को मानने वाली एथलीटों को बिना अपने प्रदर्शन से समझौता किये हुए अपनी धार्मिक मान्यताओं का पालन करने का मौका देना है.

नाइकी ने बताया है कि इस हिजाब को बेहद हल्के, लचीले मटीरियल से बनाया जाएगा. बीते कुछ सालों में अमेरिका और यूरोप जैसे दुनिया के कई देशों में हिजाब इस्लामिक संस्कृति का सबसे ज्यादा पहचाना जाने वाला प्रतीक बन कर उभरा है. कई मुस्लिम महिलाएं सार्वजनिक जगहों पर हिजाब से सिर ढकती हैं लेकिन कई आलोचक इसे महिलाओं के दमन का एक औजार मानते हैं.

मुसलमानों के आप्रवासन और खासकर इस्लामिक अतिवादिता के बारे में बढ़ती संवेदनशीलता के कारण कई जगहों से हिजाब पहनी महिलाओं पर हमले की घटनाएं सामने आई हैं. वहीं हिजाब धार्मिक और सामाजिक बहुलता के एक सशक्त प्रतीक के तौर पर भी उभरा है, जिसे नाइकी जैसी कंपनियों ने भी अपनी पेशकश में शामिल किया है.

कंपनी ने बताया कि एक बार जब मुस्लिम एथलीट्स का एक दल पोर्टलैंट अमेरिका में स्थित नाइकी के मुख्यालय के दौरे पर पहुंचा था, तभी उन्होंने प्रतियोगिताओं के दौरान हिजाब पहनने से जुड़ी परेशानियों के बारे में बताया था. इसे बाद नाइकी ने दुनिया भर की कई मुस्लिम एथलीटों से बातचीत की और उनसे मिले सुझावों को शामिल कर इस हिजाब को डिजाइन किया. कई और कंपनियां भी मुसलिम एथलीटों के लिए हिजाब बनाने पर विचार कर रही हैं. पिछले साल डेनमार्क की स्पोर्ट्सवियर कंपनी हुमेल ने अफगानिस्तान की महिला सॉकर टीम की खिलाड़ियों के लिए अटैच्ड हिजाब वाली जर्सी पेश की थी.

आरपी/ओएसजे (रॉयटर्स)

DW.COM