1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

मुशर्रफ को नहीं मिला भारत का वीजा

भारत ने पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को वीजा देने से इनकार कर दिया है. मुशर्रफ ने हाल ही में कहा कि भारत बलूचिस्तान में गड़बड़ी फैलाता है. मुशर्रफ एक कार्यक्रम के सिलसिले में भारत जाना चाहते थे.

default

नहीं मिला वीजा

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पूर्व पाकिस्तानी शासक के भारत दौरे को लेकर गृह मंत्रालय की आपत्तियों के बाद वीजा न देने का फैसला किया गया. मुशर्रफ ने हाल ही में भारत विरोधी बयान दिए. भारत मौजूदा पाकिस्तान की सरकार में भारत विरोधी रवैया रखने वाले लोगों को भी अपने यहां नहीं आने देना चाहता है.

Pervez Musharraf besucht Erdbebenopfer

मुशर्रफ के कुछ समर्थकों ने भी इस्लामाबाद के भारतीय उच्चायोग में वीजा के लिए आवेदन किया. सूत्रों का कहना है कि मुशर्रफ और उनके ये समर्थक नई दिल्ली और तीन अन्य शहरों का दौरा करना चाहते थे. मुशर्रफ को यंग प्रेसीडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन की तरफ से कराए जा रहे सेमिनार में हिस्सा लेने के लिए बुलाया गया. यह एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है जिससे कई बड़े उद्योगपति जुड़े हैं. यह सेमिनार नई दिल्ली में शुक्रवार को होना है. पूर्व पाकिस्तानी राष्ट्रपति को भी इस सेमिनार में हिस्सा लेना था.

मुशर्रफ फिलहाल ब्रिटेन में निर्वासन की जिंदगी बिता रहे हैं. हाल ही में उन्होंने कहा कि भारत पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में गड़बड़ियां फैलाने के लिए जिम्मेदार है. उन्होंने इस बारे में पाकिस्तान सरकार के पास पुख्ता सबूत होने का दावा भी किया. उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान और भारत की भूमिका के चलते बलूचिस्तान में परेशानियां पैदा हो रही हैं. मुशर्रफ को 1999 के करगिल यु्द्ध का भी रचियता माना जाता है. बाद में उन्होंने कहा कि करगिल युद्ध के चलते भारत को कश्मीर पर पाकिस्तान के साथ बातचीत करने के लिए मजबूर होना पड़ा.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links