1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

'मुल्लाह उमर के इलाज की खबर झूठी'

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी और तालिबान ने तालिबानी नेता मुल्लाह उमर के इलाज को लेकर आ रही खबरों को खारिज किया है. अमेरिकी अखबार वॉशिंगटन पोस्ट में यह खबर छापी गई थी.

default

वॉशिंगटन पोस्ट के मुताबिक मुल्लाह उमर को 7 जनवरी को दिल का दौरा पड़ा और उसे कराची के पास एक अस्पताल में दाखिल किया गया. हालांकि तालिबान के नेता जबीहुल्लाह मुजाहिब ने एक समाचार एजेंसी को बताया कि मुल्लाह उमर का स्वास्थ्य बिलकुल ठीक है और वह अफगानिस्तान में अपने जिहादी काम कर रहा है. मुजाहिब ने कहा, "हमें इस बारे में मीडिया से ही पता चला हमारे दुश्मनों ने कराची में उनके इलाज के बारे में अफवाह फैलाई हैं."

पोस्ट के मुताबिक, आईएसआई मुल्लाह ओमर को "कराची ले गई जहां उसे हेपैरिन(एंटीकोएगुलैंट) दिया गया." फिर आईएसआई ने उमर को जाने दिया. दिल के दौरे के अलावा डॉक्टर का कहना था कि उमर को दिमागी तौर पर भी परेशानी हो रही थी और उससे ठीक तरह से बोला नहीं जा रहा था.पोस्ट एक रिपोर्ट के हवाले से यह खबर दे रही थी. रिपोर्ट को एक्लिप्स ग्रुप नाम के एक पूर्व अमेरिकी सैनिकों के संगठन ने तैयार किया है.

उधर पाकिस्तानी सेना ने एक बयान में कहा है कि खबर का आधार सही नहीं है और कुछ लोग अपने स्वार्थ के लिए ऐसी बातें फैला रहे हैं. अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत हुसैन हक्कानी ने कहा कि एक्लिप्स रिपोर्ट बेबुनियाद है. अमेरिका में कई अधिकारियों ने पाकिस्तान पर आरोप लगाए हैं कि आईएसआई अब भी मुल्लाह उमर के साथ है जो 1996 से लेकर 2001 तक काबुल में तालिबान हुकूमत का सरदार था. पाकिस्तान ने इन आरोपों को खारिज किया है.

रिपोर्टः एएफपी/एमजी

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री