1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

मुरली का रिकॉर्ड कभी नहीं टूटेगाः शेन वॉर्न

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व गेंदबाज और महान स्पिनर शेन वॉर्न का कहना है कि श्रीलंकाई स्पिनर मुरलीधरन के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ना बेहद मुश्किल होगा. मुरलीधरन टेस्ट क्रिकेट में 792 विकेट ले चुके हैं.

default

शेन वॉर्न का मुरलीधरन को सलाम

रविवार को मुरलीधरन अपना आखिरी टेस्ट मैच खेलने उतरेंगे, जो भारत के खिलाफ होगा. शेन वॉर्न ने मुरली की तारीफ करते हुए कहा कि वह खेल के समय महान प्रतिद्वन्द्वी थे.

शेन वॉर्न जब रिटायर हुए थे, तब उनके नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट (708) लेने का वर्ल्ड रिकॉर्ड था. इस रिकॉर्ड को मुरलीधरन ने ही तोड़ा था. हालांकि वर्ल्ड रिकॉर्ड को लेकर दोनों के बीच रस्साकशी चलती रहती थी. कभी रिकॉर्ड उनके नाम होता तो कभी मुरली के.

वॉर्न ने कहा, “मुझे नहीं लगता मुरली का रिकॉर्ड कभी टूटेगा.

Sri Lanka Sport Cricket Cricketspieler Muttiah Muralitharan

वाकई अद्भुत है मुरली का रिकॉर्ड!

हालांकि आजकल बहुत ज्यादा टेस्ट क्रिकेट खेला जा रहा है. फिर मुरली का रिकॉर्ड बहुत बहुत लंबे समय तक और शायद हमेशा रहेगा.”

वॉर्न ने कहा, "इसके लिए आप नंबरों का हिसाब लगा सकते हैं. एक खिलाड़ी को यह रिकॉर्ड तोड़ने के लिए 140 से 150 टेस्ट खेलने होंगे और हर मैच में 5-6 विकेट लेने होंगे. मेरे ख्याल से तो इसमें खासी मेहनत लगेगी."

शेन वॉर्न को इस बात का अफसोस है कि मुरली को अपने ऐक्शन की वजह से काफी परेशानी झेलनी पड़ी, लेकिन उन्होंने कभी भी मुरली को चकर नहीं माना. वॉर्न ने कहा, “मुरली का ऐक्शन वैज्ञानिक परीक्षणों में पास हुआ था और मैंने हमेशा इस ऐक्शन को सही माना. लेकिन मुझे डर था कि नए लड़के उनके ऐक्शन को कॉपी करने के चक्कर में गलत बोलिंग सीख सकते हैं.”

वॉर्न ने कहा, "मुरली और मेरे बीच में मुकाबला चलता रहता था, लेकिन मेरी उनसे गहरी छनती थी. उनके जाने से क्रिकेट ने एक महान प्रतिद्वन्द्वी खो दिया है."

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए कुमार

संबंधित सामग्री