1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

मुबारक ने कहा, सितंबर में सत्ता छोड़ देंगे

सरकार विरोधी प्रदर्शनों के बीच मिस्र के राष्ट्रपति होस्नी मुबारक ने एलान किया है कि वह सितंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों में हिस्सा नहीं लेंगे. उन्होंने कहा है कि वह शांतिपूर्वक सत्ता परिवर्तन के लिए कदम उठाएंगे.

default

राष्ट्रपति होस्नी मुबारक के खिलाफ हफ्ते भर से राजधानी काहिरा और कई दूसरे शहरों में प्रदर्शन हो रहे हें. मंगलवार को काहिरा में लाखों लोगों ने सड़कों पर उतर कर होस्नी मुबारक से तुरंत सत्ता छोड़ देने को कहा. मुबारक पिछले तीस साल से मिस्र के राष्ट्रपति हैं. देश में सत्ता विरोधी प्रदर्शनों में 100 से ज्यादा लोग मारे गए हैं.

बढ़ते विरोध प्रदर्शनों और तेज होते अंतरराष्ट्रीय दबाव के बीच मुबारक ने मंगलवार रात राष्ट्रीय टीवी पर अपने संबोधन में कहा, "मैं इस बात के लिए वचनबद्ध हूं कि जो भी करूं उससे मिस्र में शांति बनाए रखने की मेरी जिम्मेदारी पूरी होती हो. मैं राष्ट्रपति के तौर पर बचे अपने कार्यकाल में सत्ता के शांतिपूर्ण बदलाव को सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाऊंगा. मेरी पहली प्राथमिकता देश में शांति और कानून व्यवस्था को बहाल करना है."

मुबारक के सत्ता से हटने तक प्रदर्शन जारी रखने की बात करने वाले प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए मिस्र के राष्ट्रपति ने कहा, "अगले चुनावों में जो भी चुना जाएगा, उसे सत्ता सौंप दी जाएगी. अगले राष्ट्रपति चुनाव में हिस्सा लेना का मेरा कोई इरादा नहीं है."

पिछले दिनों ट्यूनिशिया में सत्ता विरोधी प्रदर्शनों के बाद राष्ट्रपति बेन अली को सत्ता से हटने के लिए मजबूर होना पड़ा. इसके बाद मिस्र के अलावा यमन और जॉर्डन जैसे कई अरब देशों में लोग अपनी सरकारों के खिलाफ सड़कों पर उतर रहे हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः एमजी

DW.COM

संबंधित सामग्री