1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

मुझ पर लगे आरोपों की पूरी जांच होः थरूर

आईपीएल विवाद के चलते केंद्रीय मंत्री पद गंवाने वाले शशि थरूर ने फिर कहा है कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है. उन्होंने प्रधानमंत्री से अपने ऊपर लगे आरोपों की पूरी जांच कराने को कहा है. थरूर के मुताबिक उनका जमीर साफ है.

default

थरूर ने लोकसभा में बयान दिया

लोकसभा में बयान देते हुए थरूर ने कहा, "मैंने ऐसा कुछ भी नहीं किया है जो अनुचित, अनैतिक या कानून की नजर में गलत हो. इसलिए मैं प्रधानमंत्री से आग्रह करता हूं कि मेरे ऊपर लगे सभी आरोपों की पूरी तरह जांच हो. मेरे लिए यह महत्वपूर्ण है कि मेरा नाम आरोपों से साफ हो." अपने इस्तीफे की पृष्ठभूमि बताते हुए थरूर ने साफ किया कि वह अपने करियर के दौरान पूरी तरह ईमानदार रहे हैं.

गले में तिरंगा शॉल डाले हुए थरूर ने आगे कहा, "मैं भारतीय राजनीति में नया हूं लेकिन लंबे सार्वजनिक जीवन में कभी मुझ पर वित्तीय धांधलियों का कोई आरोप नहीं लगा." पिछले आम चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीतने से पहले थरूर संयुक्त राष्ट्र के उप महासचिव रह चुके हैं. लेकिन पिछले दिनों उस वक्त विवादों में फंस गए जब विपक्ष ने आरोप लगाया कि आईपीएल की कोच्चि फ्रैंचाइजी में अपनी दोस्त सुनंदा पुष्कर को हिस्सेदारी दिलाने के लिए उन्होंने अपने पद का गलत इस्तेमाल किया.

थरूर ने कहा कि उन्होंने इस्तीफा इसलिए दिया है ताकि संसद ठीक से चले और व्यापक चुनौतियों पर ध्यान केंद्रित कर सके. बेहद भावुक भाषण में थरूर ने अपने संसदीय क्षेत्र तिरुवनंतपुरम के लोगों का शुक्रिया अदा किया और कहा कि वह भारत के बहुलतावाद, सहिष्णुता और विविधता में विश्वास रखते हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः प्रिया एसेलबोर्न

संबंधित सामग्री