1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मुझे डराया नहीं जा सकता: नरेंद्र मोदी

सोहराबुद्दीन शेख फर्जी मुठभेड़ मामले में अटकलें हैं कि सीबीआई गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछताछ की तैयारी कर रही हैं. मोदी ने भी लहजा सख्त किया और कहा, उन्हें डराया नहीं जा सकता. झूठ का 100 बार मुकाबला करेंगे.

default

गुजरात के भावनगर जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कड़े लहजे में कहा, "राष्ट्रवादी और राष्ट्रविरोधी ताकतों के बीच युद्ध गुजरात में शुरू हो चुका है. लेकिन याद रखना. यह गुजरात है जहां राष्ट्रविरोधी ताकतों को मुंह की खानी पड़ेगी. अगर तुम्हें लगता है कि तुम मुझे डरा सकते हो, तो कान खोल कर सुन लो. मोदी सच के सामने झुक जाएगा लेकिन झूठ का 100 बार भी मुकाबला करेगा."

नरेंद्र मोदी ने केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा है. "मैं दिल्ली की सल्तनत को बता देना चाहता हूं कि गुजरात ने महात्मा गांधी और सरदार वल्लभभाई पटेल की विरासत को पाया है. उनके नेतृत्व में ही हमने आजादी की लड़ाई जीती. राष्ट्रवादियों और राष्ट्रविरोधियों के बीच इस लड़ाई में भी जीत इस बार गुजरात की ही होगी. यह देश कभी उन लोगों के साथ खड़ा नहीं होता जो आतंकवादियों के साथ खड़े होते हैं.''

Innenminister Amit Shah Indien

मोदी की मुश्किल बढ़ाते शाह

सोहराबुद्दीन मुठभेड़ मामले में गुजरात के पूर्व गृह राज्य मंत्री अमित शाह को सीबीआई गिरफ्तार कर चुकी है. बताया जाता है कि शाह से पूछताछ के दौरान नरेंद्र मोदी का नाम भी उछला है और ऐसे में सीबीआई अब गुजरात के सीएम से भी पूछताछ की तैयारी कर रही है. लेकिन मोदी इस जांच को गुजरात को अस्थिर करने की कोशिश बता रहे हैं. उनका कहना है कि पिछले आठ सालों में राज्य में शांति और विकास हुआ है लेकिन अब उसे अस्थिर करने की कोशिश हो रही है.

2005 में सोहराबुद्दीन को पुलिस ने एक मुठभेड़ में मारने का दावा किया था. इसके बाद उनकी पत्नी कौसर बी और एक प्रत्यक्षदर्शी तुलसी प्रजापति को एक बस स्टैंड से अगवा किया गया. कौसर बी अब भी लापता हैं और उनका शव बरामद नहीं हुआ है. प्रजापति के बारे में कहा जाता है कि वह एक मुठभेड़ में मारे गए. पुलिस पर फर्जी मुठभेड़ करने का आरोप लगा है. इस साल की शुरुआत में सुप्रीम कोर्ट ने मामले की जांच सीबीआई को सौंपी है. मोदी से 2002 गुजरात दंगों के मामले में भी पूछताछ हो चुकी है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ओ सिंह