1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

"मुझे अंडरकवर एजेंटों की परवाह नहीं"

जिस तरह वीरेंद्र सहवाग खतरनाक गेंदों की परवाह नहीं करते उसी तरह उन्हें क्रिकेट अधिकारियों के भेजे अंडरकवर एजेंटों की भी परवाह नहीं है. क्रिकेट में भ्रष्टाचार रोकने के लिए अधिकारियों ने अंडरकवर एजेंट भेजने की बात कही है.

default

विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने मुंबई में कहा कि मुझे इसकी कोई फिक्र नहीं है. सहवाग बोले, "वे अंडरकवर हों या ओवरकवर मुझे परवाह नहीं. मैं साफ हूं. परवाह वे करें जिनके पास छिपाने के लिए कुछ हो. मुझे अपनी भूमिका और अपना मकसद साफ साफ पता है."

Virender Sehwag

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया में ऐसी रिपोर्ट आई है कि आईसीसी जासूसों के जरिए क्रिकेट में भ्रष्टाचार का पता लगाने की योजना पर काम कर रही है. रिपोर्ट के मुताबिक आईसीसी के ये एजेंट खिलाड़ियों से मिलेंगे और पता लगाएंगे कि कौन से खिलाड़ी सट्टेबाजी से जुड़ी सूचनाएं अधिकारियों के साथ साझा नहीं करते. ऐसे खिला़ड़ियों को आईसीसी के भ्रष्टाचार निरोधी कानून के तहत सजा दी जाएगी.

कोच गैरी कर्स्टन की तारीफ पाकर सहवाग थोड़े भावुक हो गए. उन्होंने कहा कि गैरी ने कभी मेरी बैटिंग स्टाइल को बदलने की कोशिश नहीं की. उन्होंने कहा, "उन्होंने मुझे अपना खेल खेलने की इजाजत दी. उन्होंने कभी मुझे बदलने के लिए नहीं कहा. अगर मैं 20 या 30 रन बनाकर आउट हो जाता हूं तब भी वह उत्साहित करते हैं. वह अपना काम बहुत अच्छे से कर रहे हैं और पूरी टीम उनसे खुश है."

भारत को अगले महीने न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू मैदान पर खेलना है. लेकिन सहवाग उन्हें हल्के में लेने को तैयार नहीं हैं. हालांकि न्यूजीलैंड हाल ही में बांग्लादेश के हाथों 0-4 से हार कर आई है, लेकिन भारतीय ओपनर अलग तरह के सोचते हैं. उन्होंने कहा, "वनडे में बांग्लादेश कभी भी किसी को भी चौंका सकता है. यह हम पर निर्भर करता है कि हम कैसे खेलते हैं."

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः उज्ज्वल भट्टाचार्य

DW.COM

WWW-Links