1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मुंबई में लोकल ट्रेन स्टेशन पर भगदड़ में 15 लोग मरे

मुंबई में लोकल ट्रेन स्टेशन पर मची भगदड़ में कम से कम 15 लोगों की मौत हो गयी है जबकि 20 लोग गंभीर रूप से घायल हो गये हैं. सुबह सुबह की भीड़ और उस पर भारी बरसात में मची भगदड़ के बाद लोग जान बचाने के लिए भागे.

मुंबई के आपदा प्रबंधन दल के प्रवक्ता तानाजी पवार ने कहा है कि मरने वालों की तादाद बढ़ भी सकती है क्योंकि घायलों में कुछ की स्थिति बेहद गंभीर है. अस्पताल के अधिकारियों ने भी मरने वालों की तादाद की पुष्टि की है. इस बीच पुलिस का कहना है कि भगदड़ इस अफवाह के बाद भड़की कि पैदल यात्रियों के लिए बना एक पुल ढह गया है. सच्चाई यह थी कि पुल से कंक्रीट का एक टुकड़ा भर नीचे गिरा था. लोग पुल पर से हटने के लिए बदहवासी में भागने लगे और वहां भगदड़़ मच गयी. पुलिस कंट्रोल रूम का कहना है कि घायलों को पास के अस्पताल ले जाया गया.

इस बीच रेलवे प्रशासन की ओर से 30 लोगों के घायल होने की बात कही जा रही है. रेलवे के प्रवक्ता रविंदर भाकर का कहना है कि बहुत से लोगों ने एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर बरसात से बचने के लिए पुल के नीचे छिपे हुए थे. रविंदर भाकर ने कहा, "भगदड़ जैसी स्थिति बन गयी. 30 से ज्यादा लोग घायल हो गये हैं." टीवी पर आ रही तस्वीरों में कई घायलों को जमीन पर पड़े देखा जा सकता है जिन्हें स्थानीय लोग प्राथमिक उपचार देने की कोशिश कर रहे हैं.

भारत में धार्मिक उत्सवों के दौरान भगदड़ मचने की खबरें अकसर आती रहती हैं. भीड़ को नियंत्रित करने के प्रशासन के दावे अकसर खोखले साबित होते हैं.

एनआर/एके(एपी, रॉयटर्स)

संबंधित सामग्री