1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मिस्र पहुंचा राहत सामग्रियों सहित लीबियाई जहाज़

गज़ा की इस्रायली नाकेबंदी तोड़ने को उतारु राहत सामग्रियों से लदा लीबियाई जहाज़ बुधवार को मिस्र के अल-अरिश बंदरगाह पर पहुंचा. जहाज़ में लदी राहत सामग्री अब ज़मीन के रास्ते से गज़ा पट्टी तक पहुंचाई जाएगी.

default

राहत सामग्रियों सहित लीबियाई जहाज़

मोल्दावियाई झंडे के तले चलने वाले इस जहाज़ में लीबिया के गद्दाफ़ी प्रतिष्ठान की ओर से दो हज़ार टन खाद्यसामग्री व दवाइयां भेजी गईं. खुले समुद्र में इस्रायली नौसेना के जहाज़ इसका पीछा कर रहे थे. इस्रायल की ओर से धमकी दी गई थी कि नाकेबंदी तोड़ने की कोशिश करने पर ताकत का इस्तेमाल किया जाएगा.

गद्दाफ़ी प्रतिष्ठान की ओर से सूचित किया गया है कि काहिरा तथा एक यूरोपीय मध्यस्थ की ओर से उन्हें गारंटी दी गई है कि इस्रायल जहाज़ में लदी राहत सामग्री को ज़मीन के रास्ते से गज़ा तक पहुंचाने में बाधा नहीं डालेगा.

इससे पहले मिस्र के विदेश मंत्री अहमद अबुल ग़ेइत ने कहा था कि उनसे अनुरोध किया गया है कि अमलथेआ जहाज़ में लदी राहत सामग्री मिस्र के रास्ते से गज़ा तक पहुंचा दिया जाए. उन्होंने कहा था कि ज्यों ही जहाज़ अल अरिश बंदरगाह में पहुंचेगा, उसमें लदी खाद्यसामग्री मिस्र की रेड क्रेसेंट संस्था को सौंप दी जाएगी, जो उसे फ़लीस्तीनी पक्ष तक पहुंचा देगा. बृहस्पतिवार को जहाज़ से माल उतारने का काम पूरा हो जाएगा.

गद्दाफ़ी प्रतिष्ठान के कार्यकारी निदेशक यूसेफ़ सावान ने कहा है कि लीबिया को गज़ा पट्टी में जाड़े का मौसम आने तक आवास निर्माण के लिए 5 करोड़ डालर खर्च करने के लिए हरी झंडी मिल चुकी है. उन्होंने कहा कि उनका प्रतिष्ठान वहां 500 मकान भी बनाने वाला है. उन्होंने कहा कि जहाज़ में मौजूद लोगों की सुरक्षा का ख़्याल रखते हुए उसे अल अरिश बंदरगाह में लाने का फ़ैसला लिया गया है.

इससे पहले इस्रायल ने राहत सामग्री ले जा रहे जहाज़ फ़्लोटिला पर अंतर्राष्ट्रीय समुद्री क्षेत्र में हमला करते हुए 9 लोगों की हत्या कर दी थी. इस्रायली सेना की ओर से इस घटना की आंतरिक जांच की गई थी, जिसकी रिपोर्ट में कहा गया है कि इस हमले में ग़लतियां हुई थी, लेकिन हमले का निर्णय सही था.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: ओ सिंह