1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मारुति का मुनाफा 20 फीसदी गिरा

भारतीय कार बाजार पर बरसों से राज कर रही मारुति सुजूकी पर अब बढ़ते कॉम्पिटिशन का असर दिखने लगा है. 30 जून को खत्म हुई तिमाही में उसका मुनाफा 20 फीसदी गिरकर 465.36 करोड़ रुपये रह गया.

default

मारुति के चाहने वाले घटे

कंपनी ने एक विज्ञप्ति में कहा कि पिछले साल की इसी अवधि के दौरान मारुति सुजूकी ने 583.54 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया.

पिछली पांच तिमाहियों में यह पहली बार है जब कंपनी के मुनाफे में कमी हुई है. इससे पहले 2008-09 की चौथी तिमाही में कंपनी के मुनाफे में गिरावट देखी गई थी. तब तब कंपनी को 243.13 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ, जो उससे पिछले साल के मुकाबले 18.33 फीसदी कम रहा.

इस बार मुनाफे कमी के लिए मारुति सुजूकी ने बढ़ती महंगाई और सुजूकी के प्रति बढ़ी रॉयल्टी को जिम्मेदारी बताया है. कंपनी ने विज्ञप्ति में यह भी कहा कि ‘अन्य आय’ में कमी भी मुनाफे में गिरावट की वजह है. यूरो मुद्रा के कमजोर होने की वजह से यूरोप में एक्सपोर्ट से होने वाली उसकी आय में भी कमी आई है.

इस तिमाही के दौरान बाजार में कंपनी के हिस्से में भी कमी आई है. यात्री कारों के सेग्मेंट में में भारत में सालाना 15 लाख कारें बिकती हैं. इसमें कंपनी की हिस्सेदारी पहले 55 फीसदी थी, लेकिन अब यह घटकर 47.59 फीसदी रह गई है. तिमाही में भारत में 4,33,641 कारें बिकीं, जिनमें से 2,06,377 कारें मारुति की थीं.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए जमाल

संबंधित सामग्री