1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मारिजुआना पीने वाले ज्यादा सेक्स करते हैं?

अगर धुआं है तो आग भी जरूर होगी, इस कहावत का इस्तेमाल इस बार मारिजुआना और सेक्स में संबंध बताने के लिए किया गया है. एक रिसर्च बता रही है कि मारिजुआना का दम लगाने वाले दूसरे लोगों की तुलना में ज्यादा सेक्स करते हैं.

अमेरिका में स्टैनफर्ड यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ मेडिसिन के रिसर्चरों ने मारिजुआना और सेक्स के बीच सबंध ढूंढ निकाला है. शुक्रवार को छपे जर्नल ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन में सेक्स की आवृत्ति से जुड़ी इस खोज के नतीजों का जिक्र है. कैलिफोर्निया के रिसर्चरों ने 25 से 45 साल के अमेरिकी लोगों पर 2002 से 2015 के बीच किए परीक्षणों का नतीजा बताया है. यह परीक्षण नेशनल सर्वे ऑफ फैमिली ग्रोथ ने किये.

सर्वे में शामिल लोगों से पूछा गया कि उन्होंने बीते 12 महीनों में कितनी बार मारिजुआना के कश लिए और साथ ही यह भी कि पिछले चार हफ्तों में उन्होंने कितनी बार विपरीत लिंगीयों के साथ सेक्स किया. रोजाना मारिजुआना का इस्तेमाल करने वाली महिलाओँ ने चार हफ्ते में औसतन 7.1 बार सेक्स किया जबकि जिन महिलाओँ ने बीते एक साल में मारिजुआना का इस्तेमाल नहीं किया था उन्होंने औसतन छह बार सेक्स किया. इसी तरह पुरुषों में यह आंकड़ा मारिजुआना का दम लेने वालों में 6.9 तो मारिजुआना नहीं लेने वालों में 5.6 था.

स्टैनफर्ड में यूरोलॉजी के प्रोफेसर माइकल आइजेनबर्ग भी इस रिसर्च में शामिल थे. उनका कहना है, "दूसरे शब्दों में कहें तो मारिजुआना का इस्तेमाल करने वाले दूसरे लोगों की तुलना में 20 फीसदी ज्यादा सेक्स करते हैं." आइजेनबर्ग का कहना है कि औसत जोड़े सप्ताह में एक बार सेक्स करते हैं और इस हिसाब से देखें तो हर साल 20 बार और सेक्स होगा. आइजेनबर्ग ने कहा, "मेरे ख्याल से अगर आप किसी औरत या मर्द से पूछें तो 20 बार और सेक्स का मतलब बहुत होता है."

समझा जाता था कि जोड़े ज्यादातर मारिजुआना सेक्स के बाद लेते हैं. लेकिन आइजेनबर्ग का कहना है कि रिसर्च में इससे उलट बात सामने आई. यह सभी नस्लों, उम्र, शिक्षा स्तर, आय, धर्म, स्वास्थ्य, विवाहित या अविवाहित और  बच्चे होने या नहीं होने सब स्थितियों में लागू होता है.

अमेरिका के 29 राज्यों और कोलंबिया जिले में वयस्कों के लिए मेडिकल और मनोरंजन की खातिर मारिजुआना का इस्तेमाल कानूनी रूप से वैध है. गैलप पत्रिका के कराए एक सर्वे के मुताबिक अमेरिका में करीब 64 फीसदी लोग मानते हैं कि वयस्कों के लिए ड्रग्स के इस्तेमाल को वैध कर देना चाहिए. हालांकि आइजेनबर्ग इस बात की चेतावनी देते हैं कि इस रिसर्च को अभी पक्के तौर पर सच नहीं मान लिया जाना चाहिए. उनका कहना है, "रिसर्च के नतीजे यह नहीं कहते कि अगर आप ज्यादा मारिजुआना पियेंगे तो ज्यादा सेक्स करेंगे."

DW.COM

संबंधित सामग्री