1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

मानुएल वाल्स बने फ्रांस के नए प्रधानमंत्री

51 साल के मानुएल वाल्स ने आज फ्रांस के नए प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला. पिछली सरकार में गृह मंत्री रहे वाल्स अब तक देश के सबसे लोकप्रिय नेता रहे हैं, लेकिन उन्हें कई मुश्किलों से जूझना होगा.

default

वाल्स और ओलांद

स्थानीय चुनावों में सत्ताधारी सोशलिस्ट पार्टी की करारी हार के बाद राष्ट्रपति फ्रांसोआ ओलांद ने जब वाल्स को प्रधानमंत्री बनाने की घोषणा की तो उन्होंने कहा, "अब एक नया अध्याय लिखने का वक्त आ गया है." मानुएल वाल्स इस से पहले गृह मंत्री थे और देश की चुनौतियों से वाकिफ हैं.

फ्रांस की पोलिंग इंस्टीट्यूट आईएफओपी के फ्रेडेरिक दाबी का कहना है कि वाल्स ऐसे समय में देश की बागडोर संभालने जा रहे हैं जब देश "बेहद पेचीदा आर्थिक स्थिति" से गुजर रहा है. उनका कहना है कि दो साल तक सोशलिस्ट पार्टी के शासन के बाद देश की आर्थिक स्थिति बेहद बुरी हालत में पहुंच गयी है और वाल्स को अब इससे निबटना होगा.

सोमवार को जब वाल्स ने पद संभाला तो राष्ट्रपति ओलांद ने उनसे खास 'रेस्पॉन्सिबिलिटी पैक्ट' को लागू करने को कहा जिसके तहत ऐसी कंपनियों पर टैक्स बढ़ाया जाएगा जिन्हें रोजगार के नजरिए से प्रतिकूल माना जा रहा है. साथ ही 50 अरब यूरो की कटौती की भी बात की गयी है. इसके अलावा एक 'सॉलिडैरिटी पैक्ट' की भी बात की गयी है, जिसके लागू होने से शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं पर खर्च बढ़ाया जाएगा.

Frankreich Ministerpräsident Jean-Marc Ayrault und Nachfolger Manuel Valls

एरो और वाल्स

सोशलिस्ट पार्टी की परेशानी

सोशलिस्ट पार्टी से लोग किस तरह निराश हुए हैं इसका पता रविवार के चुनाव के नतीजों में देखने को मिला. पार्टी को 155 शहरों में हार का सामना करना पड़ा. फ्रेडेरिक दाबी कहते हैं कि पिछले दो साल के दौरान फ्रांस में विकास ना के बराबर रहा है. वाल्स खुद भी सोशलिस्ट पार्टी के हैं और उनसे पहले प्रधानमंत्री रहे जाँ मार्क ऐरो भी सोशलिस्ट पार्टी से ही जुड़े थे.

वाल्स के आगे एक चुनौती पार्टी के अंदर मतभेदों को खत्म करना भी है. गृह मंत्री के तौर पर उनकी कड़ी नीतियों के चलते पार्टी में कई लोगों को लगने लगा है कि सोशलिस्ट पार्टी का झुकाव पूंजीवाद की ओर होने लगा है.

सोशलिस्ट पार्टी ईईएलवी ग्रीन पार्टी के साथ गठबंधन में हैं. इस पार्टी के दो मंत्रियों ने एलान किया है कि वे वाल्स की सरकार का हिस्सा नहीं बनना चाहते. ग्रीन पार्टी ने भी कहा है कि गठबंधन को ले कर उन्हें दोबारा विचार करना होगा. ईईएलवी पार्टी के फ्रांसोआ दे रगी ने यूरोप वन रेडियो से कहा, "मानुएल वाल्स जब से सरकार का हिस्सा रहे हैं, उन्होंने कभी भी अर्थव्यवस्था, पर्यावरण और सामाजिक मुद्दों पर अपनी राय नहीं दी है." लेकिन दाबी का मानना है कि वाल्स अपनी शख्सियत से मंत्रियों को रिझाने में कामयाब रहेंगे.

मानुएल वाल्स के पिता स्पेन के कैटॉलोनिया इलाके से नाता रखते हैं. वहीं से उनका परिवार फ्रांस आया. 20 साल की उम्र तक वाल्स के पास फ्रांस की नागरिकता नहीं थी.

आईबी/एमजे (एएफपी)

संबंधित सामग्री