1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

माओवादियों के हमले में पांच पुलिसकर्मियों की मौत, 10 लापता

बिहार में माओवादियों के हमले में 5 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई है जबकि 10 पुलिसवाले लापता हैं. लखीसराय में हुए इस हमले में माओवादियों ने पुलिस के पास से 35 रायफलें भी लूट लीं.

default

लापता पुलिसकर्मियों की खोज में पुलिस का हेलीकॉप्टर इलाके में चक्कर लगा रहा है. रामताल नगर में माओवादियों की खोज में जुटी सीआरपीएफ, बिहार मिलिट्री पुलिस और स्टेट ऑग्जिलियरी पुलिस की संयुक्त टीम पर उग्रवादियों ने अचानक धावा बोला. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक मुठभेड़ में बीएमपी के तीन और अन्य संगठनों के जवानों की मौत हो गई. पहाड़ी इलाके में बारिश होने के कारण पुलिस अभी तक मारे गए पुलिसकर्मियों के शव भी नहीं हासिल कर पाई है.

बिहार के डीजीपी नीलमणि ने बताया, "तीन सब इंस्पेक्टर, दो हवलदार और पांच कॉन्स्टेबल मुठभेड़ के बाद अब तक बेस कैंप पर वापस नहीं लौटे हैं." हमले के बाद माओवादी 35 रायफल और बहुत सारी मैगजीन भी अपने साथ ले गए. इस हमले में कई माओवादी भी ज़ख़्मी हुए लेकिन उनके साथी उन्हें अपने साथ ले गए. इस हमले में कई पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं इनमें से सात को पटना मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है. इनकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है.

इस बीच तरियानी के अगवा किए गए बीडीओ मनोज सिंह का अभी तक कोई पता नहीं चला है. मनोज सिंह का उनके ड्राइवर और एक स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी के साथ माओवादियों ने अपहरण कर लिया. मुजफ्फरपुर के पुलिस आईजी गुप्तेश्वर पाण्डेय के नेतृत्व में एक टीम उनकी तलाश में जुटी है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ एन रंजन

संपादनः वी कुमार

DW.COM