1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

माइंत्स के लिए याद किया जाएगा यह सीजन

जर्मन फुटबॉल लीग बुंडेसलीगा के इस सत्र को याद किया जाएगा माइंत्स के तख्तापलट के लिए. माइंत्स ने बुंडेसलीगा के लगातार जीत के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है. उसने सात मैच लगातार जीते हैं.

default

माइंत्स के लुइस हॉल्टबी

शनिवार को फुटबॉल क्लब माइंत्स 05 ने अपने मैदान पर हॉफेनहाइम को 4-2 से हराकर लीग के रिकॉर्ड की बराबरी की. इस जीत के साथ माइंत्स के 21 अंक हो गए हैं और बेशक वह टॉप पर है. अब वह दूसरे नंबर पर मौजूद डोर्टमुंड से 6 अंक ऊपर जा चुका है. डोर्टमुंड का अगला मुकाबला रविवार को चैंपियन बार्यन से होना है जो लगातार पिछड़ने के बाद वापसी के लिए बेकरार है. अगर बायर्न की बेकरारी का जादू चलता है तो फायदा माइंत्स को ज्यादा होगा. क्योंकि तब डोर्टमुंड और उसके बीच का अंतर और बड़ा हो जाएगा.

माइंत्स ने शनिवार को हॉफेनहाइम को हराकर जो कमाल किया है वह अब तक के लीग के इतिहास में सिर्फ दो बार ही हो पाया है. इससे पहले बायर्न और काइजर्सलाउटर्न ने ही एक सीजन में सात लगातार मैच जीते हैं.

माइंत्स का यह मैच भी काफी मनोरंजक रहा. पहला गोल दागने में माइंत्स को सिर्फ दो मिनट का वक्त लगा. सामी अलागुई ने अपने खास अंदाज में लुइस हॉल्टबी के हमले को तेजी से आगे बढ़ाया और गेंद हॉफेनहाइम के गोल में जा घुसी.

मेहमान टीम ने वापसी के लिए संघर्ष किया जो हाफ टाइम से ठीक पहले कामयाबी में बदल गया. डेंबा बा ने इसे अंजाम दिया. लेकिन हॉफेनहाइम की बराबरी ज्यादा देर तक टिकी नहीं. हाफ टाइम के बाद खेले शुरू होते ही माइंत्स की ऊर्जा गोल में बदल गई. हंगरी के एडम शालाई स्कोर को 2-1 कर दिया. हॉफेनहाइम के लिए हालात और मुश्किल हो गए जब उसके अपने खिलाड़ी लुइस गुस्ताव ने अपने ही गोल में बॉल दे मारी.

हॉफेनहाइम अब दो गोल से पिछड़ रहा था और उसे वापसी के लिए कड़ी मेहनत करनी थी. उसने की भी. सब्स्टिट्यूट के तौर पर आए गिल्फी ज़िगुर्दसन ने फ्री किक से 64वें मिनट में अपनी टीम को खुश होने का थोड़ा सा मौका दिया. लेकिन खुशी और गम दोनों ही ज्यादा देर तक नहीं टिकते. हॉफेनहाइम को तो थोड़ी ही खुशी मिली थी जो 10 मिनट बाद आंद्रे शुएर्ले ने छीन ली. हालांकि इसमें हॉफेनहाइम के जोसिप सिमुनिक की भी भूमिका रही. उन्होंने फाउल करके रेड कार्ड तो पाया ही माइंत्स को एक पेनल्टी भी मिल गई, जिसे शुएर्ले ने गोल में बदलकर अपनी टीम की सातवीं जीत पक्की कर दी.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एमजी

WWW-Links